घरों में शिव नंदन गौरी पुत्र मंगलमूर्ति श्री गणेश की स्थापना शुरू, सजाए जा रहे बड़े पंडाल

 


  जबलपुर.  भक्तों पर कृपा बरसाने के लिए आज से घर-घर में शिवनंदन गौरी पुत्र गणेश की स्थापना शुरू हो गई है। पर्व के आगमन के पूर्व मंगलवार को लोगों ने तैयारी की। वहीं गणेश पंडालों में प्रतिमा स्थापना को लेकर निर्माण तेज कर दिया गया है। आज से दस दिनों तक प्रथम पूज्य भगवान गणेश की आराधना धूमधाम से की जाएगी।

श्री सुप्तेश्वर गणेश मंदिर :

रतन नगर एकता विहार स्थित मंदिर में श्री गणेश पर्व पर प्रतिदिन अनुष्ठान होंगे। इस दौरान प्रतिदिन शाम सात बजे महाआरती, भजन, कीर्तन, अखंड रामायण पाठ, भजन संध्या, अभिषेक आदि कार्यक्रम होंगे। सात सितंबर को छप्पन भोग, भजन संध्या एवं समापन दिवस पर विशाल भंडारा होगा। समिति ने उपस्थिति की अपील की है।

क्षत्रिय मराठा समाज :

गणपति बप्पा की विधिवत पूजा अर्चना के साथ स्थापना श्री खंडेराव मंदिर दीक्षितपुरा में बुधवार को शाम चार बजे से होगी। उपस्थिति का आग्रह जयसिंह गायकवाड़, प्रवीण सालुंके, तस्र्ण सोनोने, सतीश पानखड़े, पुष्कर हाके, महेंद्र काले, संजय सोनोने, हेमंत हाके ने की है।

महाराष्ट्र समाज का 124वां आयोजन :

इस बार महाराष्ट्र समाज का 124वां आयोजन है। समाज द्वारा लोकमान्य बाल गंगाधर तिलक के आह्वान पर प्रतिमा की स्थापना शुरू की गई थी। श्री गणेश प्रतिमा की स्थापना शाम 6 बजे से कर्नल शैलेंद्र बर्वे द्वारा की जाएगी ।दूसरे दिन ब्रिगेडियर राहुल गोहाड आरती करेंगे। कार्यक्रम में मेधावी विद्यार्थियों के साथ ही पार्षद दिनेश तामसेतवार, प्रतिभा विध्येश भापकर का सम्मान किया जाएगा। महाराष्ट्र समाज के अध्यक्ष डा. रवि फडणीस, सचिव राजेंद्र बर्वे, संयोजक साईकृष्ण पाटील, हर्षल पुणतांबेकर, सौरभ बापट, आशुतोष गोडबोले, चिन्मय जोशी ने उपस्थिति की अपील की है ।

शंकराचार्य का जन्मोत्सव मनाया

जबलपुर। बगलामुखी सिद्धपीठ सिविक सेंटर शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती महाराज का 99वां जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। ब्रह्मचारी चैतन्यानंद महाराज के सानिध्य में एवं महामंडलेश्वर राम कृष्णानंद महाराज एवं भक्तों ने पादुका पूजन किया। इसके पश्चात 1100 लड्डुओं का अर्चन किया गया। इस अवसर पर ब्रह्मचारी चैतन्यानंद ने बताया कि शंकराचार्य का जन्म 1924 में हरतालिका तीज को सिवनी जिले के दिघोरी ग्राम में हुआ था। इस अवसर पर भारत सिंह यादव, मधु यादव, बृजेश दुबे, मनोज सेन, अखिलेश त्रिपाठी, प्रकाश द्विवेदी, हेमंत मिश्रा, बीके पटेल, आशीष चौकसे, तुलसी अवस्थी आदि उपस्थिति रहे। इसी तरह कालीधाम भटौली में स्वामी कालिकानंद सरस्वती ने जन्मोत्सव मनाया।