भारत और चीन जल्दी एक साथ सैन्य अभ्यास में भाग ले सकते हैं, पाकिस्तानी सैनिक

 


 नई दिल्ली. सीमा पर तनाव के बीच भारत और चीन जल्दी एक साथ सैन्य अभ्यास में भाग ले सकते हैं। इतना ही नहीं कहा जा रहा है कि पाकिस्तान भी सुरक्षा से जुड़े एक अभ्यास में हिस्सा लेने अक्टूबर में भारत आ सकता है। खबर है कि रूस में होने वाले वोस्तोक 2022 सैन्य अभ्यास में भारत भाग लेगा। इससे पहले तीनों देशों ने रूस में हुए जापद अभ्यास में भी हिस्सा लिया था।

शंघाई सहयोग संगठन (SCO) के तहत भारत में अक्टूबर के आसपास अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद विरोधी अभ्यास हो सकता है। संभावनाएं जताई जा रही हैं कि हरियाणा के मनेसर में यह आयोजित हो सकता है। साप्ताहिक ब्रीफिंग के दौरान पाकिस्तान के विदेश प्रवक्ता आसिम इफ्तिखार ने मुल्क के शामिल होने के बात की जानकारी दी है। 

खास बात है कि इस साल भारत SCO RATS यानी रीजनल एंटी टैरेरिज्म स्ट्रक्चर की अध्यक्षता कर रहा है। साथ ही पाकिस्तान, भारत, रूस और सेंट्रल एशियन रिपब्लिक्स (CARs) भी क्षेत्रीय व्यवस्था का हिस्सा हैं।

वोस्तोक जा सकते हैं चीन और भारत
न्यूइंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट में सूत्रों के हवाले से लिखा है, 'चीन ने पुष्टि कर दी है कि उनके सैनिक वोस्तोक 2022 सैन्य अभ्यास में हिस्सा लेंगे। भारत का 75 सदस्यीय दल भी इसमें शामिल होने के लिए तैयार हैं और एक बार तारीख पक्की होने के बाद वह व्लादिवोस्तोक के लिए रवाना हो जाएगा।' वोस्तोक अभ्यास 30 अगस्त से 5 सितंबर के बीच हो सकता है, जिसमें बेलारूस, मंगोलिया और तजिकिस्तान शामिल होंगे।

इससे पहले साल 2021 में भारत ने रूस में जापद अभ्यास में हिस्सा लिया था, जिसमें पाकिस्तान और चीन समेत 17 देश शामिल हुए थे। यह अभ्यास रूस की पश्चिमी सीमा पर हुए थे।