जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाने जोर शोर से तैयारियां

 रायपुर, दुर्ग।

असल बात न्यूज़।। 

संपूर्ण छत्तीसगढ़ में जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया जोर शोर से तैयारियां चल रही हैं। मंदिरों, देवालयों में यह तैयारियां काफी पहले से शुरू हो गई है जिसे आज अंतिम रूप दिया जा रहा है।  इस अवसर पर कई जगह भगवान श्री कृष्ण की झांकी और शोभा यात्रा निकालने की भी तैयारियां हैं। भगवान श्री कृष्ण के मंदिरों को भव्य तरीके से सजाया गया है। 

राजधानी रायपुर में श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व काफी धूमधाम से मनाया जाता है। यहां भगवान श्री कृष्ण के  वर्षों पुराने कई सारे मंदिर है जहां भगवान श्री कृष्ण मूर्त रूप में स्थापित हैं और वहां हर साल जन्माष्टमी का पर्व काफी धूमधाम से मनाया जाता है। मंदिरों में जिस तरह से सजावट की जा रही है वह देखते ही बनता है।

भगवान श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पर्व के अवसर पर  बाजार में पूजन सामग्री और सजावटी सामनों की खरीदारी से चहल-पहल बढ़ गई है।मंदिरों में भगवान श्रीकृष्ण की झांकी सजाकर पूजन अर्चन किया जाएगा। कई स्कूलों में भी उत्सव का आयोजन किया जा रहा है। पूजा पंडालों में स्थापित होने वाली भगवान कृष्ण की प्रतिमाएं  भी बनाई जा रही हैं।यहां ग्रामीण इलाकों में भी श्रीकृष्ण जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाया जाता है।

दुर्ग जिले के पाटन विकासखंड के ग्राम तरीघाट में भी जन्माष्टमी का पर्व धूमधाम से मनाने की तैयारी की जा रही है। यहां भगवान श्री कृष्ण के जन्मोत्सव के अवसर पर यादव समाज के सदस्यों के द्वारा भव्य कलश शोभायात्रा तथा झांकी निकालने की तैयारी की गई है जो कि पूरे गांव का भ्रमण करेगी। स्थानीय यादव समाज के सदस्य ने बताया कि श्री कृष्ण साहड़ा देव मंदिर प्रांगण  से  दोपहर 11:00 बजे से कलश शोभायात्रा निकलेगी तथा दोपहर 1:00 बजे से पूजा-अर्चना शुरू होगी।