जगन मोहन रेड्डी की मां ने दिया YSR कांग्रेस से इस्तीफा, तेलंगाना में देंगी बेटी का साथ

 


हैदराबाद. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी की मां विजयम्मा ने वाईएसआरसीपी के मानद अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपनी बेटी का साथ देने के लिए यह फैसला किया है। उनकी बेटी ने तेलंगाना में एक नई पार्टी बनाई है, जहां विधानसभा चुनाव होने वाले हैं।

कथित तौर पर जगन रेड्डी और उनकी बहन के बीच मतभेद तब पैदा हुए जब उन्होंने तेलंगाना में एक राजनीतिक पार्टी बनाई। ठीक एक साल पहले शर्मिला ने वाईएसआर तेलंगाना पार्टी (वाईएसआरटीपी) की घोषणा की थी। जगन रेड्डी अपनी बहन के तेलंगाना में प्रवेश के खिलाफ थे। वाईएसआरसीपी की मानद अध्यक्ष विजयम्मा ने लॉन्च के मौके पर अपनी बेटी को आशीर्वाद दिया था। आज उन्होंने इस पद को छोड़ दिया।

आपको बता दें कि आज ही जगन मोहन रेड्डी के पिता की 73वीं जयंती है। इस मौके पर जगन ने अविभाजित आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वाई.एस. राजशेखर रेड्डी को उनकी श्रद्धांजलि दी। उनके साथ उनकी पत्नी और मां भी मौजूद थी।

बहनोई भी बनाएंगे नई पार्टी
हालांकि, इस मौके से शर्मिला के पति अनिल कुमार नदारद दिखे। अनिल ने हाल ही में आंध्र प्रदेश में एक नई राजनीतिक पार्टी बनाने का भी संकेत दिया था। उन्होंने विशाखापत्तनम में पिछड़े वर्गों, अनुसूचित जातियों, अनुसूचित जनजातियों और अल्पसंख्यकों के विभिन्न समूहों के नेताओं से मुलाकात की और उनकी समस्याओं पर चर्चा की थी।

इस मौके पर उन्होंने कहा था, “चूंकि उन्होंने मेरी अपील पर वाईएसआरसीपी को समर्थन दिया था, अब यह मेरा कर्तव्य है कि मैं उनके साथ खड़ा रहूं। मैं अपनी बात से पीछे नहीं हट सकता।”