बर्खास्त,ग्राम पंचायतों के डिजिटल सिग्नेचर का अप्राधिकृत उपयोग करने पर डाटा एंट्री ऑपरेटर बर्खास्त


 *डाटा एंट्री ऑपरेटर श्री सोरी सेवा से बर्खास्त

रायपुर ।

असल बात न्यूज़।। 

ग्राम पंचायतों के डिजिटल सिग्नेचर को अपने पास रखने तथा उससे वित्तीय लेनदेन करने के मामले में जनपद पंचायत के डाटा एंट्री ऑपरेटर को बर्खास्त कर दिया गया है।उक्त ऑपरेटर जनपद पंचायत संसाधन केंद्र मकड़ी में पदस्थ था। उसकी संविदा कर्मचारी के रूप में ड्यूटी थी। राज्य शासन के द्वारा पंचायतों के जिम्मेदार पदाधिकारियों के डिजिटल सिग्नेचर  का कहीं भी दुरुपयोग नहीं होने देने के लिए अधिकारियों को सतर्कता बदलने का निर्देश दिया गया है।

जनपद पंचायत माकड़ी के निरीक्षण के दौरान जिला पंचायत कोण्डागांव के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने डाटा एंट्री ऑपरेटर श्री भागीराम सोरी द्वारा 9 ग्राम पंचायतों के डीएससी (डिजिटल सिग्नेचर) को अवैधानिक रूप से अपने पास रखने और आप्राधिकृत रूप से उसका उपयोग किए जाने का मामला पकड़ा था। इस दौरान कार्यालय में मौजूद अधिकारियों कर्मचारियों के बयान भी दर्ज किए गए। वित्तीय लेनदेन से संबंधित इस मामले को गंभीरता से लेते हुए आज जिला पंचायत कोण्डागांव के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने डाटा एंट्री ऑपरेटर श्री सोरी को तत्काल प्रभाव से सेवा समाप्त किए जाने का आदेश जारी किया है। डाटा एंट्री ऑपरेटरी श्री सोरी द्वारा रखे गए सभी 9 ग्राम पंचायतों के डीएससी को संबंधित ग्राम पंचायतों को वापस कर दिया गया है।

 शासन स्तर पर भी इस मामले को गंभीरता से लिया गया है। राज्य में डिजिटल सिग्नेचर का कहीं भी किसी भी स्थिति में आप्राधिकृत उपयोग न हो इसको लेकर सभी जिम्मेदार अधिकारियों को सतर्कता बरतने और ऐसे मामलों में दोषियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।