बीजापुर में वर्षा से नदी नाले उफान पर: गश्‍त से लौट रहा कोबरा बटालियन का जवान गुटरा पहाड़ी नाला में बहा

 


बीजापुर. छत्‍तीसगढ़ के बीजापुर जिले में झमाझम बारिश से नदी नाले उफान पर आ गए हैं। इसी दौरान एक बड़ा हादसा हो गया। गश्‍त से लौट रहा कोबरा 210 बटालियन का एक जवान उफनती गुटरा पहाड़ी नाला में बह गया। जवान का नाम सूरज आर. है। बताया जा रहा है कि नाला पार करते वक्त जवान तेज बहाव में बह गया। जवान की खोजबीन की जा रही है। कोबरा जवान केरल का रहने वाला है।

बीजापुर मुख्यालय में सीआरपीएफ डीआईजी कोमल सिंह ने इस घटना की पुष्टि की है। उन्‍होंने कहा है कि इस जवान के बारे जानकारी ली जा रही है। सीआरपीएफ के डीआईजी के अनुसार यह घटना सुबह सुबह हुई है जब कोबरा के जवान नाला पार कर रहे थे, इसी समय नाले के पानी का बहाव बहुत तेजी से बढ़ गया। इस घटना की अभी विस्तृत जानकारी आनी बाकी है, क्योंकि सिलगेर क्षेत्र सुकमा बीजापुर की सीमा में आता है। घटना दूरस्थ क्षेत्र में हुई इसलिए पुलिस के अधिकारी भी पूरी जानकारी नहीं दे पा रहे है।

ज्ञात हो कि पहले बरसात में सुदूर जंगलों में नक्सली सुरक्षित ठिकानों में रहते थे। बीते कुछ वर्षों से फोर्स बरसात में भी नक्सल आपरेशन बंद नहीं करती है। बरसात में हर साल आपरेशन मानसून चलाया जाता है। इसके लिए जवानों को विशेष ट्रेनिंग दी गई है। आपरेशन मानसून के तहत गुरुवार रात को तर्रेम कैंप से कोबरा 210 बटालियन के जवान गश्त पर गए थे। जवानों ने एंबुश लगाया किंतु सफलता नहीं मिली। रात में बीजापुर जिले में मूसलाधार बारिश हुई जिससे नदी नाले उफान पर आ गए और जवान फंस गए। सुबह जवान रस्सी के सहारे गुटरा नाला पार कर रहे थे तभी एक जवान तेज बहाव की चपेट में आकर बह गया।

इधर, कृषि विज्ञान केन्द्र के भीरेंद्र पालेकर ने बताया कि बीजापुर में एक रात में बारिश का रिकार्ड टूट गया है। उन्होंने बताया कि एक रात में 142 मिमी बारिश हुई जोकि अब तक हुई बारिश से सबसे ज्यादा है।

बीजापुर जिले में नदी नाले उफान पर

बीजापुर में रात भर हुई तेज बारिश से रिकार्ड टूटा है। कृषि वैज्ञानिक ने बताया 142 मिमी बारिश से क्षेत्र नदी नाले उफान पर है। चेरपाल नदी में बाढ़ आने से आवागमन अवरूद्ध हो गया है। बासागुड़ा की तालपेरू नदी में भी पुलिया के बराबर पानी बहने की जानकारी मिली है। नैमेड में खेतों का पानी नेशनल हाईवे पर बहने से आने जाने वालों की दिक्कतें बढ़ी है। बीजापुर के मांझी पारा मार्ग में पानी भर जाने मार्ग अवरूद्ध है। बीजापुर मुख्यालय में भारी बारिश से कई स्थानों पर नालियों के जाम होने से बारिश का पानी स्कूल व सार्वजनिक स्थानों पर जमाव हो गया है‌। नगर पालिका के कर्मचारियों द्वारा जाम नालियों की सफाई की जा रही है।