राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटों की गिनती जारी, पहले राउंड में द्रौपदी मुर्मू आगे

 नई दिल्ली ।

असल बात न्यूज़।।



  द्रौपदी मुर्मू या यशवंत सिन्हा में से देश का अगला राष्ट्रपति कौन होगा, इसका फैसला आज शाम तक हो जाएगा। संसद भवन में राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटों की गिनती सुबह 11 बजे से जारी है। पहले राउंड में सांसदों के वोटों की गिनती हो चुकी है। पहले राउंड की गिनती के बाद द्रौपदी मुर्मू काफी आगे चल रहे हैं। द्रौपदी मुर्म को 540 वोट मिले हैं, वहीं उनके प्रतिद्वंद्वी यशवंत सिन्हा को सिर्फ 208 मत प्राप्त हुए हैं। सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज शाम करीब 4 बजे चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद द्रौपदी मुर्मू से मिलने जाएंगे। द्रौपदी मुर्मू की जीत तय मानी जा रही है, यही कारण है कि द्रोपदी मुर्मू के निवास पर भी तैयारियों शुरू कर दी गई है।

द्रौपदी मुर्मू की जीत तय

एनडीए की तरफ से द्रौपदी मुर्मू के पक्ष में काफी वोट पड़े हैं। द्रौपदी मुर्मू यदि जीत जाती हैं तो वह देश की पहली आदिवासी महिला राष्ट्रपति होंगी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है। नए राष्ट्रपति 25 जुलाई को शपथ लेंगे। द्रौपदी मुर्मू की जीत लगभग तय मानी जा रही है।

पहले विधायकों, फिर सांसदों के मतों की होगी गिनती

मिली जानकारी के मुताबिक राष्ट्रपति चुनाव के लिए 18 जुलाई को मत डाले गए थे। आज सुबह संसद भवन में जब वोटों की गिनती शुरू होगी तो सबसे पहले विधायकों के मतों की गिनती शुरू होगी, इसके बाद सांसदों के वोटों की गिनती शुरू होगी। इसके बाद रिटर्निंग ऑफिसर राज्यसभा के महासचिव पीसी मोदी वोटों की जांच करेंगे। नियम के मुताबिक सांसदों के मतपत्र में हरे रंग के पेन से और विधायकों के मतपत्र में गुलाबी रंग के पेन से प्राथमिकता लिखी जाएगी। मतगणना रूम में मुर्मू और सिन्हा के नाम से एक-एक ट्रे रखी जाएगी। मुर्मू के लिए प्राथमिकता वाला बैलेट पेपर उनकी ट्रे में रखा जाएगा और यशवंत सिन्हा के लिए प्राथमिकता वाला बैलेट पेपर उनकी ट्रे में रखा जाएगा।

16 सांसदों ने नहीं किया था वोट

चुनाव आयोग ने बताया है कि 18 जुलाई को मतदान में 99 फीसदी से ज्यादा मतदाताओं ने वोट डाला था। भाजपा सांसद सनी देओल और संजय धोत्रे समेत 8 सांसदों ने वोट नहीं डाला था। सनी देओल इलाज के लिए विदेश गए हैं, जबकि संजय धोत्रे ICU में भर्ती थे। भाजपा और शिवसेना के दो-दो सांसद और बसपा, कांग्रेस, सपा और एआईएमआईएम के 1-1 सांसद भी मतदान से चूक गए।

चुनाव आयोग ने जानकारी दी है कि छत्तीसगढ़, गोवा, गुजरात, हिमाचल प्रदेश, केरल, कर्नाटक, एमपी, मणिपुर, सिक्किम, तमिलनाडु और पुडुचेरी में राष्ट्रपति चुनाव में शत-प्रतिशत मतदान हुआ। राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान समाप्त होने के बाद राज्यसभा के महासचिव पीसी मोदी ने बताया था कि संसद भवन में कुल 99.18 प्रतिशत मतदान हुआ था।