राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान

 रायपुर ।

असल बात न्यूज़।। 

देश के 16वे राष्ट्रपति के चुनाव के लिए छत्तीसगढ़ में भी सांसदों, राज्यसभा सदस्यों और विधायकों ने मतदान किया। यहां विधानसभा में मतदान केंद्र बनाया गया था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी यहां पहुंचकर मतदान किया। वहीं विधानसभा के अध्यक्ष चरणदास महंत ने भी मतदान किया। 

छत्तीसगढ़ विधान सभा परिसर स्थित समिति कक्ष क्रमांक-02 में  देश के 16 वें राष्ट्रपति के चुनाव हेतु स्थापित मतदान केन्द्र में मतदान की प्रक्रिया सम्पन्न हुई। छत्तीसगढ़ राज्य में राष्ट्रपति चुनाव हेतु 100 प्रतिशत मतदान हुआ। मतदान आज प्रातः 10.00 बजे से प्रारंभ हुआ। 

विधान सभा परिसर स्थित मतदान केन्द्र में विधान सभा अध्यक्ष, मुख्यमंत्री , मंत्रियों एवं  विधायकों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। आज के मतदान में भारतीय जनता पार्टी से मतदान अभिकर्ता के रूप में श्री नारायण प्रसाद चंदेल, श्री कृष्णमूर्ति बांधी एवं श्री शिवरतन शर्मा एवं कांग्रेस की ओर से श्री कुलदीप सिंह जुनेजा एवं श्री मोहित राम केरकेट्टा मतदान केन्द्र में उपस्थित थे।

 इस अवसर पर राष्ट्रपति चुनाव-2022 हेतु नियुक्त पीठासीन अधिकारी एवं सहायक रिटर्निंग आफिसर, श्री दिनेश शर्मा, प्रेक्षक,श्री राकेश रंजन, प्रमुख सचिव भारत निर्वाचन आयोग, श्री मलय मलिक, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी (छ.ग.) श्री पी. दयानंद भी उपस्थित थे।  

 विधानसभा भवन में बनाए गए मतदान केंद्र में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत तथा नेता प्रतिपक्ष श्री धरमलाल कौशिक सहित सभी 90 विधायकों ने वोट डाले। मतदान सुबह दस बजे शुरू हुआ था। मतदान की निर्धारित अवधि खत्म होने के बाद शाम पांच बजे मतपेटी को सीलबंद किया गया। राष्ट्रपति निर्वाचन-2022 के लिए नियुक्त सहायक रिटर्निंग ऑफिसर सीलबंद मतपेटी को लेकर आज रात सवा नौ बजे के नियमित विमान से नई दिल्ली जाएंगे। वहां 21 जुलाई को मतों की गिनती की जाएगी। 

छत्तीसगढ़ विधानसभा भवन में बनाए गए स्ट्रांग-रूम से आज सवेरे मतपेटी को निकालकर मतदान कक्ष में रखा गया। राष्ट्रपति पद के दोनों उम्मीदवारों के पोलिंग एजेंट, भारत निर्वाचन आयोग द्वारा नियुक्त ऑब्जर्वर व प्रेक्षक तथा मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की मौजूदगी में सीलबंद मतपेटी को खोलकर व जांचकर मतदान के लिए रखा गया। शाम पांच बजे मतदान की निर्धारित अवधि समाप्त होने के बाद मतपेटी को पुनः सीलबंद किया गया। 


मतदान के लिए मतपेटी को खोलने और मतदान के बाद पुनः सीलबंद करने के दौरान छत्तीसगढ़ के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री पी. दयानंद, अतिरिक्त मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्रीमती शिखा राजपूत तिवारी, विधानसभा के सचिव श्री दिनेश शर्मा, भारत निर्वाचन आयोग द्वारा छत्तीसगढ़ के लिए नियुक्त ऑब्जर्वर श्री राकेश रंजन और प्रेक्षक श्री मलय मलिक, उम्मीदवारों के पोलिंग एजेंट विधायक श्री मोहित राम केरकेट्टा एवं डॉ. कृष्णमूर्ति बांधी मौजूद थे।