विश्व युवा कौशल दिवस पर स्वरूपानंद महाविद्यालय में युवा प्रतिभा एवं कौशल की अभिव्यक्ति का आयोजन

 भिलाई ।

असल बात न्यूज़।।

विश्व कौशल दिवस युवाओं को रोजगार व्यवसाय और काम करने के कौशल विकसित करने के उद्वेश्य से मनाया जाता है जिसमें युवा वर्तमान और भविष्य में वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के लिये तैयार हो सके। इस परिपेक्ष्य में स्वरूपानंद महाविद्यालय में युवा प्रतिभा एवं कौशल की अभिव्यक्ति कार्यक्रम का आयोजन किया गया। 

कार्यक्रम के उद्धेश्यों पर प्रकाश डालते हुये प्रभारी स.प्रा. संयुक्ता पाढ़ी विभागाध्यक्ष अंग्रेजी ने बताया हर व्यक्ति में कोई न कोई स्किल जरूर होता हैं हम अपने कौशल को कैसे रोजगार में बदल सकते है जिसमें हम इस संक्रमण के दौर में अपनी प्रतिभा को स्वरोजगार में बदल सके कौशल कोे सामने लाने का मौका देना कार्यक्रम का मुख्य उद्धेश्य है। 

डॉ.सुनीता वर्मा, विभागाध्यक्ष हिन्दी ने बताया कि विद्यार्थियों की प्रतिभा बहुमुखी होती है कोई कम्प्यूटर में माहिर तो कोई  गीतए संगीत, नृत्य में तो कोई मेहंदी बनाने में निपुण हर व्यक्ति अपनी प्रतिभा को स्वरोजगार में बदल सकता है। इस प्रकार कार्यक्रम से प्रतिभा की पहचान होती है। 

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ.दीपक शर्मा ने बताया यह दिन युवाओं को तकनीकी व्यवसायिक शिक्षा, प्रशिक्षण संस्थान के बीच परस्पर संवाद का अवसर प्रदान करता है जिसमें आपसी तालमेल बढ़े  व रोजगार के अवसर उपलब्ध हो। 

प्राचार्य डॉ.हंसा शुक्ला ने बताया इस बार युवा कौशल की थीम भविष्य के लिय युवा कौशल को बदलना है जिस प्रकार व्यवसायिक संस्थाओं में रोजगार उपलब्ध है विद्यार्थियों को उसी प्रकार से ट्रेनिंग दी जानी चाहिये जिससे वे भविष्य की चुनौतियॉं  लिये तैयार हो सकें। 

कोमल तिवारी, अंकिता जैन बी.कॉम तृतीय वर्ष ने  सुदर नृत्य कर अपनी नृत्य प्रतिभा का परिचय दिया व उन्होंने बताया भविष्य में नृत्य  प्रशिक्षिका को अपना रोजगार बनायेंगी। 

मेधा उइके बीबीए पंचम सेमेस्टर ने स्पिच दिया व बताया वह मोटिवेशन स्पिकर बनना चाहती है उन्होंने  बताया लोग क्या कहेंगे इसे हम सोचना छोड़ देगे तो अपनी उन्नति कर सकते है।

बी.ए.तृतीय वर्ष के विद्यार्थी पृथ्वी सिंह राजपूत ने आरक्षण पर अपने विचार व्यक्त करते हुये कहा आरक्षण का आधार आर्थिक होना चाहिये। खुशी साहू, बीबीए पंचम सेमेस्टर,  नीरज यादव, भाग्यश्री बीबीए तृंतीय सेमेस्टर ने बहुत संदर पोस्टर बनाये व अपनी कला को ही व्यवसाय के रूप में स्थापित करने की बात कही। 

विजयी प्रतिभागियों के नाम इस प्रकार है .

 प्रथम  . भाग्यश्री, बीबीए तृतीय सेमेस्टर 

द्वितीय . अंजली शर्मा, बीबीए तृतीय सेमेस्टर 

तृतीय . मेधा उइके, बीबीए तृतीय सेमेस्टर 

सांत्वना . कोमल, अंकिता बी.कॉम तृतीय

निर्णायक के रूप में स.प्रा.मीना मिश्रा विभागाध्यक्ष गणित, डॉ.पूनम निुकुम्भ स.प्रा.शिक्षा विभाग उपस्थित हुए।

कार्यक्रम में मंच संचालन पृथ्वी सिंह राजपूत बी.ए.तृतीय वर्ष ने एवं धन्यवाद ज्ञापन स.प्रा.संयुक्ता पाढ़ी विभागाध्यक्ष अंग्रेजी ने दिया।