उधार दिए थे आठ लाख 43 हजार स्र्पये, वापस मांगने पर हुआ विवाद, 11 साल के बेटे ने पुलिस के सामने खोला राज

 


बिलासपुर। उधार में दिए आठ लाख 43 हजार स्र्पये ससुर से वापस मांगना युवक को महंगा पड़ा गया। इस बात से नाराज ससुर, पत्नी, सास, ससुर और साले ने राड, लाठी व चाकू से युवक पर हमला कर दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पूरी घटना युवक के 11 वर्षीय बेटे के सामने हुई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची। बच्चे ने पुलिस को बताया कि मम्मी, मामा, नाना और नानी ने मिलकर पापा को मार डाला। पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया है।

मस्तूरी के जयरामनगर के ग्राम खैरा के रहने वाला संतोष साहू(40) की शादी 12 साल पहले ग्राम वेदपरसदा निवासी श्याम लाल साहू की बेटी राजेश्वरी से हुई थी। शादी के बाद संतोष अपने ससुराल में ही बस गया। संतोष ने पिछले दिनों अपनी पैतृक संपत्ति को बेचा था। इस दौरान श्याम लाल साहू ने स्र्पये की जरूरत पड़ने पर दामाद संतोष से आठ लाख 43 हजार स्र्पये उधर लिए। शनिवार को दोपहर 12 बजे संतोष ने अपने ससुर से उधार में ली रकम वापस मांगी। उस समय घर में सास, साला, और उसकी पत्नी भी थे। इसी बात को लेकर सभी संतोष से विवाद करने लगे।

विवाद बढ़ने पर संतोष पर ससुर, साले, सास और पत्नी ने हमला कर दिया। वे राड व लाठी से ताबड़तोड़ वार करते रहे। इससे संतोष जमीन पर गिर गया। इस बीच आरोपितों ने चाकू से संतोष के पेट और सीने पर वार कर उसकी हत्या कर दी। सूचना मिलते ही मस्तूरी पुलिस की टीम जांच करने मौके पर पहुंची। पुलिस ने प्रत्यक्षदर्शी संतोष के 11 वर्षीय बेटे से पूछताछ की। उसने पूरी घटना पुलिस को बता दी। इसके बाद पुलिस ने सास, ससुर, साले व पत्नी को हिरारासत में ले लिया है। हत्या का अपराध दर्ज कर मामले की जांच कर रही है। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद शव को स्वजन को सौंप दिया है।

आए दिन होता था विवाद

पुलिस को पूछताछ में पता चला है कि श्याम लाल साहू अपने दामाद को उधार में ली रकम लौटा नहीं रहा था। स्र्पये वापस मांगने पर संतोष से विवाद शुरू कर देता था। इस बात को लेकर दोनों के बीच आए दिन झगड़ा होता था। इस बारे में गांव के लोगों को भी जानकारी थी। कई बार पड़ोसियों ने बीच-बचाव कर विवाद को शांत कराया था।

मृतक के स्वजन ने किया चक्काजाम

मस्तूरी स्वास्थ्य केंद्र में पोस्टमार्टम के बाद पुलिस ने शव स्वजन को सौंपा। आक्रोशित स्वजन ने शव को जांजगीर मुख्य मार्ग पर रखकर विरोध प्रदर्शन किया। इससे दोनों तरफ ट्रैफिक जाम लग गया। मृतक के स्वजन आरोपितों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग कर रहे थे। पुलिस स्वजन समझा कर सड़क पर यातायात सामान्य कराया।