24 घन्टे बाद नाला से दो सौ मीटर दूर में मिला लापता युवक का शव

 


जांजगीर चांपा। सोमवार की सुबह पामगढ़ के ग्राम पनगांव में स्थित कंजीनाला में लकड़ी निकालने गए एक युवक और किशोर पानी के तेज बहाव में बह गए थे। ग्रामीणों की मदद से किसी तरह किशोर को बाहर निकाल लिया गया था। मगर युवक का पता नहीं चल रहा था। नगरसेना और एसडीआरएफ की टीम तलाश कर रही थी। 24 घन्टे बाद मंगलवार की सुबह लापता युवक का शव नाला से 200 मीटर दूर में मिला।

रविवार की रात क्षेत्र में जमकर वर्षा होने से कंजीनाला उफान पर आ गया था। इसके चलते लकड़ियां नाले में बहकर आ रही थी। सोमवार की सुबह 8ः30 बजे पामगढ़ थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत पनगांव निवासी उमेश यादव (17) पिता मिठाईलाल यादव और सेमन्त यादव (21) पिता लालाराम यादव नाला में बह कर आई लकड़ी को निकालने के लिए गए थे। नाले के तेज बहाव में दोनों युवक बह गए। इसके बाद वे दोनों एनिकट में जाकर फंस गए । दोनों ने आसपास मौजूद ग्रामीणों को बचाव के लिए आवाज लगाई। ग्रामीण बचाव करने के लिए पहुंचे। ग्रामीणों ने किसी तरह उमेश यादव को तो बाहर निकाल लिया।

इसी दौरान अचानक सेमन्त यादव का पैर फिसल गया और वह नीचे गिर गया और पानी के तेज बहाव में बह गया। जिसके बाद सेमन्त का पता नहीं चला। सूचना मिलते ही पुलिस की टीम मौके पर पहुंची और रेस्क्यू टीम को भी बुलाया गया। सेमन्त यादव की खोज पुलिस, होमगार्ड के जवान और ग्रामीण कर रहे थे। जब सफलता नहीं मिली तो शाम को एसडीआरएफ की टीम की मदद ली गई। आज सुबह लापता युवक का शव नाला से 2 सौ मीटर दूर में मिला।

भाई-बहन में सबसे छोटा था सेमन्त

सेमन्त का एक भाई और एक बहन है। सेमन्त दोनों से छोटा था। इस नाते वह घर में सभी का चहेता था। उसका शव मिलने के बाद घर वालों का रो-रोकर बुरा हाल है।

तेज बहाव के कारण रेस्क्यू में आ रही थी परेशानी

कंजी नाला का पानी लगातार बढ़ रहा है। बाढ़ के कारण नाले में पानी का बहाव तेज था। इसके चलते रेस्क्यू टीम को सेमन्त की खोजबीन में टीम को सफलता नहीं मिल पा रही थी। रेस्क्यूटीम को परेशानी आ रही थी