दुर्ग जिले के गांव में लकड़बग्घो के घुसने की खबर, 11 बकरियों को मार डाला, ग्रामीणों में दहशत

 धमधा. दुर्ग ।

असल बात न्यूज़।।



 दुर्ग जिले में धमधा ब्लाक के गांवो  में आक्रामक लकड़बग्घा के सक्रिय होने की खबर आ रही है।  खबर के अनुसार यहां के ग्राम रौंदा में 11 बकरियां मरी पाई गई हैं जिन पर लकड़बग्घो के द्वारा हमला करने की आशंका व्यक्त की जा रही है। हालांकि किसी ने लकड़बग्घा को अपनी आंखों से देखा नहीं है लेकिन वहां जिस तरह से चिन्ह पाए गए हैं उससे लकड़बग्घों के द्वारा ही वहां हमला किए जाने की आशंका है। लकड़बग्घों का यह हमला रात में हुआ  जहां 21 बकरियां बाड़े में थी। हमले की वजह से बकरियों ने चीख-पुकार मचाना शुरू कर दिया तो गांव के लोग दौड़कर वहां पहुंचे लेकिन किसी ने लकड़बग्घो को देखा नहीं। इस घटना से लोगों में दहशत भी है।

सावन के महीने में अब जगह जगह अच्छी बारिश हो रही है। नदी नालों में भी पर्याप्त पानी हो गया है। चारों तरफ हरियाली फैली भी दिखने लगी है।जो जंगल क्षेत्र हैं वह भी हरे भरे हो गए हैं।ऐसे समय में कई तरह के जानवर भी निकल रहे हैं और हमला करने पर उतारू दिख रहे हैं।  माना जा रहा है कि जंगल क्षेत्र से  लकड़बग्घे गांव में पहुंचे और उन्होंने बकरियों के बाड़े पर हमला कर दिया। लकड़बग्घा की संख्या अधिक होने की आशंका व्यक्ति की जा  रही है जिससे इतनी सारी  बकरियों का शिकार करने की कोशिश की गई।

धमधा पुलिस के अुनसार बकरी पालन करने वाले सावत निषाद के घर में करीब पांच फीट उंची दीवार फांदकर लकड़बग्घे पहुंचे थे। इसके बाद भीतर बाड़े में बकरियों पर हमला कर दिया। बताया जाता है कि उक्त निषाद परिवार वर्तमान में घर के एक हिस्से में ही पक्का मकान बनवा रहा है।

इस वजह से पूरा परिवार पास ही स्थित एक सामाजिक भवन में रह रहा है। रात में बकरियों की तेज आवाज सुनने के बाद परिवार व आसपास के लोग पहुंचे तब तक लकड़बग्घे गायब हो गए थे। 

उनके पैरों के निशान से ही उनके लकड़बग्घा होने की बात ग्रामीण कह रहे हैं परन्तु उन्हें किसी ने देखा नहीं है। घटना के बाद से पूरे क्षेत्र में पुलिस व वन विभाग की टीम सर्चिंग कर रही है। इधर गांव में दहशत की स्थिति है।