उदयपुर की घटना पर UP में आक्रोश, मायावती ने जताई नाराजगी, सख्त कार्रवाई की मांग

 


 राजस्थान के उदयपुर में टेलर की हत्या की घटना के बाद अब यूपी में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है. इसके अलावा पुलिस सोशल मीडिया पर भी पैनी नजर बनाए हुए हैं. सभी जिलों के पुलिस कप्तानों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं. इस बीच बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर घटना पर दुख व्यक्त किया है. साथ ही सभी से संयम बरतने की अपील की है. पूर्व सीएम ने राजस्थान सरकार से दोषियों के खिलाफ सख्त कानूनी सजा दिलाने की मांग की है.

दोषियों को मिले सख्त कानूनी सजा- मायावती

पूर्व सीएम मायावती ने ट्वीट कर लिखा, राजस्थान के उदयपुर में एक दर्जी की आज की गई नृशंस हत्या अति-दुःखद, जिसकी जितनी भी तीव्र निन्दा व भर्त्सना की जाए वह कम है. सभी से संयम बरतने व शान्ति-व्यवस्था बनाये रखने की अपील. राजस्थान की सरकार दोषियों को सख्त कानूनी सजा दिलाना सुनिश्चित करने के साथ-साथ हालात को सामान्य बनाए रखने के लिए सभी ज़रूरी कदम तत्काल उठाए.

उदयपुर हत्याकांड को लेकर यूपी में हाई अलर्ट

इधर, यूपी में जारी हाई अलर्ट को लेकर अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने बताया कि, प्रदेश के सभी जिलों के पुलिस कप्तानों को अलर्ट रहने के निर्देश दिए गए हैं. संवेदनशील इलाकों में फूट पेट्रोलिंग करने और गहन चेकिंग करने के भी निर्देश दिए गए हैं. उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश में माहौल खराब करने की कोशिश करने वालों से सख्ती से निपटा जाएगा. कानून को हाथ में लेने की इजाजत किसी को नहीं दी जाएगी.

क्या है उदयपुर में टेलर की हत्या का मामला

दरअसल, राजस्थान के उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट की थी, जिसमें उन्होंने नूपुर शर्मा के विवादित बयान का समर्थन किया था. इसके बाद कन्हैयालाल की निर्मम हत्या कर दी गई. साथ ही हत्या के दोनों आरोपियों ने घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर शेयर कर दिया. वीडियो में दोनों युवक हत्याकांड की जिम्मेदारी लेते साफ देखे जा सकते हैं. वीडियो क्लिप में एक हमलावर को यह कहते सुना जा सकता है कि उसने ही एक आदमी का सर कलम कर दिया है. इसके अलावा पीएम नरेंद्र मोदी के लिए भी धमकी दी गई है, और नुपुर शर्मा का भी जिक्र किया गया है. फिलहाल, राजस्थान पुलिस ने दोनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.