अग्निपथ के विरोध में कांग्रेस का सत्याग्रह आज

 


रायपुर. सेना भर्ती के लिए जारी की गई अग्निपथ योजना का कांग्रेस ने विरोध तेज कर दिया है। सोमवार को कांग्रेस प्रदेश के सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में सत्याग्रह आंदोलन करने जा रही है। सुबह 10 बजे से दोपहर एक बजे तक क्षेत्रीय विधायक सहित वरिष्ठ नेताओं, पार्टी पदाधिकारियों की उपस्थिति में शांतिपूर्ण सत्याग्रह किया जाएगा। रायपुर में रविशंकर विश्वविद्यालय के सामने इस योजना के विरोध में कांग्रेसी सुंदरकांड का पाठ भी करेंगे।

मरकाम कोंडागांव, डा महंत सक्ती में होंगे शामिल

कांग्रेस पदाधिकारियों के अनुसार पार्टी के सभी 71 विधायक अपने-अपने विधानसभा क्षेत्र में प्रदर्शन करेंगे। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पाटन, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मोहन मरकाम कोंडागांव और विधानसभा अध्यक्ष डा. चरणदास महंत सक्ती के प्रदर्शन में शामिल होंगे। जहां कांग्रेस विधायक नहीं हैं, वहां संगठन के नेताओं को प्रदर्शन की अगुवाई का जिम्मा सौंपा गया है। कोरोना संक्रमित होने के कारण मंत्री टीएस सिंहदेव अंबिकापुर के कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे।

इसी कड़ी में रविवार को रायपुर पहुंचीं महिला कांग्रेस की पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष शोभा ओझा ने अग्निपथ योजना की कमियां गिनाईं। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में प्रेसवार्ता में उन्होंने कहा कि केंद्र की तुगलकी सरकार पहले फैसला करती है और बाद में सोचती है। युवा इसे वापस लेने की मांग कर रहे हैं।

बता दें कि कांग्रेस इस योजना का राष्ट्रीय स्तर पर विरोध कर रही है। मुख्यमंत्री बघेल इस योजना को सेना के साथ मजाक करार दे चुके हैं। उन्होंने कहा कि अग्निवीरों की भर्ती चार साल के लिए होगी इसमें से छह महीने ट्रेनिंग में निकल जाएंगे। उन्होंने कहा कि देश के परमवीर चक्र विजेता इस योजना का विरोध कर रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार सेना चीफ से इसका बचाव करा रही है।