भिलाई इस्पात संयंत्र में एक और ठेका श्रमिक की मौत

 


भिलाई । भिलाई इस्पात संयंत्र में गुरुवार को हादसे में एक और ठेका श्रमिक की मौत हो गई। यह हादसा संयंत्र के स्टील मेल्टिंग शाप-2 में हुआ। बीते नौ दिनों में संयंत्र में यह चौथा एवं स्टील मेल्टिंग शाप-2 में तीसरा हादसा है। मृतक ठेका श्रमिक ग्राम डुंडेरा का निवासी था।

भिलाई इस्पात संयंत्र में दुर्घटनाओं का सिलसिला थम नहीं रहा है। आज दोपहर तीन बजे के करीब संयंत्र के स्टील मेल्टिंग शाप-2 के कनर्वटर में यह हादसा हुआ। वहां पर एमजे इंटरप्राइजेस का ठेका श्रमिक अर्जुन साहू 45 वर्ष काम कर रहा था। इस दौरान ही कनवर्टर के लांसिंग का लोहे का भारी भरकम चेन अर्जुन साहू के सिर पर गिरा। दुर्घटना में अर्जुन साहू को गंभीर चोट आई। उसे संयंत्र के मेन मेडिकल पोस्ट लाया गया जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

-स्टील मेल्टिंग शाप-2 में सुरक्षा पर सवालःभिलाई इस्पात संयंत्र के स्टील मेल्टिंग शाप-2 में लगातार तीन हादसे हो चुके हैं। बीते शुक्रवार को एसएमएस- 2 के कनवर्टर क्रमांक-3 में मेटल पोरिंग के दौरान ब्लास्ट हो गया। जिससे वहां कार्यरत नियमित कर्मचारी मान सिंह ठाकुर की हथेली का कुछ हिस्सा झुलस गया। मौके पर ही मौजूद ठेका श्रमिक भूषण लाल एवं गिरि कुमार पर भी हाट मेटल के छींटे पड़े थे और आंशिक रूप से झुलस गए थे। शनिवार को स्टील मेल्टिंग शाप- 2 के कनवर्टर के लैडल फर्नेस- 2 में हादसा हुआ था। यहां का चरिचालन मेसर्स वेसुवियस के कर्मचारियों के द्वारा किया जाता है। यहां लेडल नीचे गिरने से हाट मेटल बह गया था और आग लग गई थी। इसमें शैलेंद्र कुमार (एचएसडब्ल्यू), योगेश कुमार वर्मा (यूएसडब्ल्यू), संजय कुमार चौहान (एसडब्ल्यू) का हाथ व चेहरा झुलस गया था वहीं बीएसपी कर्मचारी चंद्र शेखर साहू (एसीटी) भी मामूली रूप से झुलस गया था।