छत्तीसगढ़ अग्निकुल क्षत्रिय समाज की कार्यकारिणी समिति के चुनाव के लिए आज 26 जून को मतदान , अध्यक्ष सहित सभी पदों के लिए सीधे मुकाबले में काफी संघर्षपूर्ण स्थिति

 

हमारे संवाददाता


भिलाई नगर।

असल बात न्यूज़।।

 छत्तीसगढ़ अग्निकुल क्षत्रिय समाज की कार्यकारिणी समिति का चुनाव इस बार काफी रोमांचपूर्ण हो गया है। अभी समिति के अध्यक्ष सहित कुल 21 पदों के लिए चुनाव होने जा रहा है जिसमें सभी पदों के लिए दो- दो उम्मीदवार चुनाव मैदान में भाग्य आजमा रहे हैं जिसका फैसला 1 दिन बाद हो जाएगा।  सभी उम्मीदवारो ने मतदाताओं को अपनी ओर रिझाने अपने-अपने तरह से जमकर मेहनत की है। चुनाव के लिए रविवार 26 जून को मतदान होगा। इस समिति के निर्वाचित पदाधिकारी सेक्टर 05 स्थित कामाक्षी मंदिर का प्रशासनिक कार्य भी देखते हैं। इसकी वजह से इसके सदस्यों में इस चुनाव को लेकर काफी दिलचस्पी दिख रही है।

समिति के चुनाव में अध्यक्ष पद हेतु दो उम्मीदवारों कृष्णाराव व टी डिल्वेश्वर के बीच सीधी टक्कर की स्थिति है। महासचिव पद पर पापाराव और रामाराव तथा कोषाध्यक्ष पद पर आर वासुदेव व टी मानेश्वर राव के बीच सीधा मुकाबला  है। जहां उपाध्यक्ष पद पर ए श्रीनिवास राव, जोगेश्वर राव और वाई पपाराव के बीच रोचक मुकाबला होने जा रहा है, वहीं सचिव पद हेतु टी डिल्लेश्वर राव एवं टी कृष्णाराव भाग्य आजमा रहे हैं हैं।  कार्यकारिणी में जगह बनाने के लिए बी रामाराव, सी एच बालकृष्णा, डी श्रीनिवास, ई कामेश्वर राव, गुरुमूर्ति, जे अप्पाराव, के प्रकाशराव, एन वेंकटरमणा, पी संन्यासी राव, पी शंकरराव, आर जनकराम, टी भास्कर राव, टी चिरंजीव तथा वाई उपेंद्रराव चुनाव मैदान में हैं।

 निर्वाचन अधिकारी पी पापाराव द्वारा जारी चुनाव कार्यक्रम के अनुसार अग्निकुल क्षत्रिय समाजम् के पदाधिकारियों के चुनाव में  मतदाता रविवार, 26 जून को अध्यक्ष, महासचिव समेत 21 पदाधिकारियों को चुनेंगे। इनका कार्यकाल तीन वर्षों का होगा। सेक्टर 05 स्थित कामाक्षी मंदिर परिसर को मतदान स्थल बनाया गया है। मतदान सुबह 9 से शाम 5 बजे तक चलेगा। मतदान  के बाद मतगणना की जाएगी और नतीजे इसी दिन देर शाम तक घोषित कर दिए जाएंगे। 

 इस चुनाव में एक अध्य‌क्ष, दो उपाध्यक्षों, एक महासचिव, एक सचिव, दो सहसचिवों, एक कोषाध्यक्ष, एक उपकोषाध्यक्ष तथा बारह कार्यकारिणी सदस्यों के लिए वोटिंग होगी।  उम्मीदवारों ने मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए जमकर चुनाव प्रचार किया है। समिति की कार्यकारिणी का इसके पहले वर्ष 2018 में चुनाव हुआ था। मंदिर में माता कामाक्षी की प्रतिमा की प्राणप्रतिष्ठा में  देरी तथा कोरोना गाइडलाइन के कारण चुनाव को एक वर्ष के लिए टालना पड़ा।

इस चुनाव में वी कोटेश उप कोषाध्यक्ष, डी जगपति तथा टी तुलसीदास सहसचिव पद पर पहले ही निर्विरोध निर्वाचित घोषित किए जा चुके हैं। इससे पहले वर्ष 2018 में चुनाव हुआ था। मंदिर में माता कामाक्षी की प्रतिमा की प्राणप्रतिष्ठा में हुई देरी तथा कोरोना गाइडलाइन के कारण चुनाव एक वर्ष के लिए स्थगित करना पड़ा।