शिवसैनिकों का हंगामा शुरू, एकनाथ शिंदे और तानाजी सावंत के दफ्तरों पर हमले

 


 महाराष्ट्र में सियासी घमासान जारी है। अब तक हाई प्रोफाइल ड्रामा हुआ, लेकिन तस्वीर साफ नहीं है कि आगे क्या होगा? सभी की नजर महाराष्ट्र विधानसभा के डिप्टी स्पीकर पर है। डिप्टी स्पीकर कोई कदम उठाते हैं तो ही एक्शन आगे बढ़ेगा? तभी राज्यपाल और सुप्रीम कोर्ट तक मामला पहुंचेगा? इस बीच, मुंबई से लेकर दिल्ली और गुवाहाटी तक बैठकों का दौर जारी है। उद्धव ठाकरे हर तरह का कार्ड खेल रहे हैं, वहीं संजय राउत की बयानबाजी भी जारी है। राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) और कांग्रेस भी Wait n watch की पॉलिसी अपनाए हुए हैं। भाजपा भी यही कर रही है, हालांकि अंदरखाने रणनीति पर काम पहले दिन से जारी है। पढि़ए महाराष्ट्र की सियासी उठापठक से जुड़ी हर खबर

नए नाम का ऐलान करेंगे एकनाथ शिंदे: शिवसेना आज दो गुट में बंट सकती है। एकनाथ शिंदे ने अपने गुट का नाम तय कर लिया है, जिसका औपचारिक ऐलान आज किया जाएगा। शिंदे गुट ने अपने नाम 'बाला साहेब ठाकरे: शिवसेना' रखा है। आज उद्धव ठाकरे की बैठक के बाद इसकी घोषणा की जा सकती है। शिंदे गुट का कहना है कि उनके साथ 40 विधायक हैं। अपने गुट के साथ बाला साहेब ठाकरे का नाम जोड़कर शिंदे इमोशनल कोर्ड खेलना चाहेंगे।

- बागी विधायकों के खिलाफ शिवसैनिकों का गुस्सा खुलकर सामने आने लगा है। पुणे में एकनाथ शिंदे के दफ्तर पर हमला किया गया। वहीं तानाजी सावंत का दफ्तर पर भी हमले की सूचना है।