बालोद जिले में स्वयं सहायता समूह के शत्-प्रतिशत सदस्यों के लिए वित्तीय साक्षरता मिशन का उद्घाटन

 

*वित्तीय साक्षरता एवं जागरूकता अभियान के लिए बालोद जिले का चयन पायलट जिले के रूप में


रायपुर ।

असल बात न्यूज़।।

 भारतीय रिज़र्व बैंक, रायपुर द्वारा  बालोद जिले के स्वयं सहायता समूहों के शत प्रतिशत सदस्यों के लिए वित्तीय साक्षरता और जागरूकता अभियान शुरू किया गया है।इस का उदघाटन क्षेत्रीय निदेशक भारतीय रिज़र्व बैंक श्रीमती रीनी अजित द्वारा कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे और महाप्रबंधक नाबार्ड श्रीमती सुपर्णा टंडन की उपस्थिति में किया गया। 

वित्तीय साक्षरता और जागरूकता अभियान के लिए प्रदेश के बालोद जिले का चयन पायलट जिले के रूप में किया गया है। भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा यह जिला पूर्णतः डिजिटल भुगतान में सक्षम बनाने के लिए पहले ही चुना गया है, जिसमें सभी बैंकों में लगभग 90 प्रतिशत सफलता प्राप्त कर ली है। इस अभियान के अंतर्गत अगले छः महीनो में जिले में कार्यरत अग्रणी जिला प्रबंधक, नाबार्ड के अधिकारी, चुने हुए बैंकों के अधिकारी, डोंडी लोहारा स्थित वित्तीय साक्षरता केंद्र तथा एनआरएलएम के प्रतिनिधियों द्वारा विभिन्न कार्यक्रम आयोजित कर स्वयं सहायता समूहों के सदस्यों को वित्तीय साक्षरता एवं जागरूकता प्रदान की जाएगी। इसमें उन्हे विविध आर्थिक उत्पादों और सेवाओं की तथा उनसे संबंधित शिकायतों के निवारण की जानकारी भी दी जाएगी।


कलेक्टर श्री जनमेजय महोबे ने इस अवसर पर कहा कि इस पहल से बैंकों और स्वयं सहायता समूहों के बीच संव्यवहार और बढ़ेगा तथा उन्होने भारतीय रिज़र्व बैंक को इस अभियान हेतु बालोद जिले का चयन करने के लिए धन्यवाद ज्ञापित किया।