हसदेव अरण्य में पेड़ों के काटने के मुद्दे पर सियासत तेज

 


रायपुर। हसदेव अरण्य को बचाने के लिए एक ओर ग्रामीण कर रहे हैं तो वहीं इसे लेकर प्रदेश में सियासत भी तेज हो गई है। भाजपा ने हसदेव अरण्य के मुद्दे पर छत्‍तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार पर जमकर निशाना साधा है।

भाजपा के वरिष्‍ठ नेता और पूर्व मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, हसदेव अरण्य के मामले को लेकर आज पूरे देश में रोष है। बीजेपी नेता ने सीएम भूपेश पर हमला बोलते हुए कहा, छत्तीसगढ़िया के बारे में बात करने वाले आज हसदेव मामले पर चुप क्यों है।

बृजमोहन अग्रवाल ने कहा, हसदेव में 4 लाख पेड़ कटेंगे। हसदेव में 55 लाख मीट्रिक टन कोयला है। उहोंने तंज कसते हुए कहा कि अपने नेता को उपकृत करने लिए छोटा भाई बलि पर चढ़ा रहा है।

बृजमोहन अग्रवाल ने सरकार से सवाल पूछते हुए कहा, आक्सीजन ज्यादा जरूरी है या कोयला। उन्‍होंने कहा, पेड़ों के कटने से इसके कई दुष्‍प्रभाव देखें जाएंगे। एक ओर जहां पेड़ कटेंगे तो तापमान और भी बढ़ जाएंगे। हसदेव बांगो डेम सबसे बड़े डैम है। पेंड़ कटने से डेम सुख जाएंगे। इतना ही नहीं पेड़ काटने से कार्बनडाइ आक्साइड बढ़ जाएगी।