मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने चलाया हल, पाराडोल की धरती पर बोया 'सोनम' धान

 


बैकुंठपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल खेत में नांगर-बइला (हल और बैल) देखकर खुद को रोक नहीं पाए। उन्होंने किसान के हाथ से हल का मूठ थामा और खुद हल चलाने लगे। उन्होंने खेत में धान का छिड़काव कर बुआई भी की। लोगों से भेंट-मुलाकात के लिए मनेंद्रगढ़ विधानसभा के पाराडोल पहुंचे मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कार्यक्रम स्थल से सटे खेत में धान बुवाई होते देख वहां पहुंच गए। उन्होंने खेत में हल चलाकर 'सोनम' धान की बुआई की। यह खेत गांव के कोटवार भागीरथी को कोटवारी जमीन के रूप में मिली हुई है। उनके पिता और दादा ने भी गांव में कोटवारी की थी और वे इस जमीन पर तब से ही खेती करते आ रहे हैं।

भरतपुर-सोनहत को दी 188 करोड़ की सौगात

इससे पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बैकुण्ठपुर रेस्ट हाउस में भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र के कुल 188 करोड़ 75 लाख रुपये की लागत के 43 कार्यों का भूमिपूजन एवं लोकार्पण किया। इसमें 29 करोड़ 28 लाख रुपये लागत के 10 कार्यों का भूमिपूजन तथा 159 करोड़ 47 लाख रुपये लागत के 33 कार्यों का लोकार्पण का किया जा रहा है।

भूमिपूजन के प्रमुख कार्य-

भूमिपूजन के तहत जल जीवन मिशन योजनान्तर्गत पेजयल व्यवस्था के लिए 59 सोलर ड्यूल पंप की स्थापना छह करोड़ 58 लाख रुपये की लागत से होगी। पांच किमी लंबाई के मसौरा से कुदरा मार्ग का निर्माण पांच करोड़ 95 लाख रुपये की लागत से किया जाएगा। पांच किमी के काचरडांड से मधौरा पहुंच मार्ग का निर्माण चार करोड़ 87 लाख रुपये, साल्ही से कर्मघोघा पहुंच मार्ग तीन करोड़ 39 लाख रुपये तथा पसौरी से कोतमा मार्ग पर बरने नदी पर उच्चस्तरीय पुल एवं पहुंच मार्ग का निर्माण पांच करोड़ 34 लाख रुपये से किया जाएगा। इसके अलावा मुख्यमंत्री बघेल ने विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण किया।

असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय 

 पल-पल की खबरों के साथ अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता