छपरा में जहरीली शराब पीने से दो लोगों की मौत

 


छपरा. बिहार में जहरीली शराब से एक बार फिर दो लोगों की मौत होने की आशंका जतायी जा रही है. छपरा में बुधवार की सुबह दो लोगों की संदिग्ध मौत हो गयी है. मरनेवालों की पहचान दरियापुर प्रखंड के विश्वंभरपुर पथरा गांव निवासी गणेश महतो के 35 वर्षीय बेटे भोला महतो और गांव के ही द्वारिका महतो के रूप में हुई है.

मंगलवार की शाम दोनों ने पी थी शराब

ग्रामीणों के अनुसार मंगलवार की देर शाम दोनों ने शराब का सेवन किया था. इसके बाद उनकी हालत बिगड़ने लगी थी. घटना दरियापुर प्रखंड के विश्वंभरपुर पथरा गांव की है. हालत बिगड़ने के बाद दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. वहां इलाज के दौरान दोनो की मौत हो गयी. ग्रामीण मौत का कारण शराब बता रहे हैं, जबकि हमेशा की तरह जिला प्रशासन दोनों की मौत को संदिग्ध बता रहा है.

परिजन ले गये अस्पताल

बताया जा रहा है कि मंगलवार की शाम दोनों ने नदी के किनारे बैठकर शराब के सेवन किया था. देर रात दोनों की तबीयत बिगड़ने लगी. जिसके बाद आनन फानन में परिजन दोनों को लेकर दरियापुर स्थित पीएचसी ले गये. वहां डॉक्टरों ने भोला को मृत घोषित कर दिया, जबकि द्वारिका को बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच भेज दिया था, लेकिन उसकी भी मौत इलाज के दौरान हो गयी.

प्रशासन ने साधी चुप्पी

इस मामले में पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी कुछ भी बोलने से परहेज कर रहे है, जबकि परिजन भी कुछ बताने से कतरा रहे हैं. हालांकि गांव के लोगों का कहना है कि जहरीली शराब पीने से दोनों की मौत हुई है. सच का पता अब दोनों के पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही लग पायेगा.

जांच में जुटी पुलिस

इधर, घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस पूरे मामले के छानबीन में जुट गई है. बिहार में सरकार और पुलिस प्रशासन की लाख कोशिशों के बावजूद शराब बेचने और पीने वाले अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे हैं. जहरीली शराब पीने से बिहार में अबतक कितने की लोगों की मौत हो चुकी है, बावजूद लोग इससे परहेज नहीं कर रहे हैं.