राज्य के उद्धव ठाकरे की सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे

 


 नई दिल्ली. विधान परिषद चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पांच सीटों पर शानदार जीत के साथ ही सियासी भूचाल आ गया है। राज्य के उद्धव ठाकरे की सरकार पर संकट के बादल मंडराने लगे हैं। सूत्रों ने कहा है कि भाजपा ने एकनाथ शिंदे को उपमुख्यमंत्री पद की पेशकश की है। सूत्र यह भी बता रहे हैं कि शिंदे करीब दो दर्जन विधायकों को लेकर गुजरात में डेरा जमाए हुए हैं। उन्हें करीब 25 एमएलए का समर्थन प्राप्त है। इस पूरे प्रकरण पर दोपहर दो बजे महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल प्रेस कॉन्फ्रेंस करने जा रहे हैं।

महाराष्ट्र विधानसभा में किसके पास कितने विधायक

288 विधायकों वाले महाराष्ट्र विधानसभा में शिवसेना विधायक रमेश लटके के निधन से एक सीट खाली है। इस बीच, एनसीपी के दो विधायक अनिल देशमुख और नवाब मलिक वर्तमान में जेल में हैं> अदलात ने उन्हें राज्यसभा और एमएलसी चुनाव में मतदान की अनुमति देने से इनकार कर दिया था। शिवसेना के पास 55 विधायक हैं। वहीं, राकांपा के 53, कांग्रेस के 44 विधायक हैं। भाजपा 106 विधायकों के साथ सबसे बड़ी पार्टी है। इसके अलावा बहुजन विकास अघाड़ी (बीवीए) के तीन, समाजवादी पार्टी, एआईएमआईएम और प्रहार जनशक्ति पार्टी के दो-दो, मनसे, माकपा, पीडब्ल्यूपी, स्वाभिमानी पार्टी, राष्ट्रीय समाज पक्ष, जनसुराज्य शक्ति पार्टी, क्रांतिकारी शेतकारी पार्टी एक-एक और 13 निर्दलीय विधायक हैं।

महाराष्ट्र में जारी संकट के बीच अमित शाह पहुंचे बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर

महाराष्ट्र के जारी राजनीतिक संकट के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के घर पहुंच गए हैं। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी दिल्ली पहुंच रहे हैं। तीनों नेताओं की बैठक होने की संभावना है।

शिवसेना ने माना, सरकार पर है संकट, संजय राउत बोले- विधायकों को निकलने नहीं दे रही भाजपा

शिवसेना नेता संजय राउत ने भी इसकी पुष्टि कर दी है कि पार्टी के कुछ विधायकों और एकनाथ शिंदे से संपर्क नहीं हो पा रहा है। राउत ने कहा, "शिवसेना के कुछ विधायकों और एकनाथ शिंदे फिलहाल संपर्क में नहीं हैं। एमवीए सरकार को गिराने की कोशिश की जा रही है, लेकिन बीजेपी को यह याद रखना होगा कि महाराष्ट्र राजस्थान या मध्य प्रदेश से बहुत अलग है।"