शिवसेना के 55 में से 35 विधायकों को लेकर नॉट रिचेबल हुए एकनाथ शिंदे

 


 महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव परिणाम आने के बाद उद्धव ठाकरे सरकार के लिए नई मुश्किल खड़ी हो गई है। अब तक की जानकारी के मुताबिक, 35 विधायकों को लेकर शिवसेना के एकनाथ शिंदे ने बगावत कर दी है। एकनाथ शिंदे इन बागी विधायकों को लेकर सूरत की होटल में ठहरे हैं। इसकी शुरुआत सोमवार को उस समय हो गई थी, तब एमएलसी चुनावों में 12 विधायकों ने क्रॉस वोटिंग की, जिसका फायदा भाजपा को हुआ। सुबह खबर आई कि महाविकास अघाड़ी के कई विधायक नॉट रिचेबल हैं। शुरू में यह संख्या 13 थी, जो अब बढ़कर 35 हो गई है। औरंगाबाद के सभी विधायक नॉट रिचेबल हैं। इसके बाद हड़कंप मचा है। उद्धव ठाकरे के साथ ही NCP प्रमुख शरद पवार ने आपात बैठक बुलाई है। शिवसेना प्रवक्ता संजय राउत अपना दिल्ली दौरा छोड़कर मुंबई लौट आए हैं। अपुष्ट खबरों के मुताबिक, ये विधायक सूरत में हैं। उद्वव सरकार में मंत्री एकनाथ शिंदे से भी सम्पर्क नहीं हो पा रहा है। पढ़िए लाइव अपडेट्स

संजय राउत की प्रेस कॉन्फ्रेंस: पूरे मामले में करीब पौने 11 बजे संजय राउत ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने कहा, जब तक महाराष्ट्र में शिवसेना है, अस्थिरता नहीं आएगी। शिवसेना का कोई नेता ऐसा नहीं है जो बिक जाए। भाजपा यह साजिश रच रही है।

देवेंद्र फडणवीस को आज नासिक में योग दिवस कार्यक्रम में हिस्सा लेना था, लेकिन वे इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। इसके बाद खबर आई कि फडणवीस दिल्ली पहुंच गए हैं।

महाराष्ट्र कांग्रेस में बगावत की आशंका: महाराष्ट्र कांग्रेस में बगावत है। उनकी नाराजगी उद्धव सरकार से है। कहा जा रहा है कि बाला साहेब थोराट इस्तीफा दे सकते हैं। इस बीच, कांग्रेस ने महाराष्ट्र के अपने सभी बड़े नेताओं को दिल्ली बुलाया है।

दिल्ली में हैं शरद पवार: शरद पवार दिल्ली में हैं। उन्होंने भी अपनी पार्टी के बड़े नेताओं को दिल्ली बुलाया है ताकि मौजूदा हालात पर बैठक की जा सके।

एकनाथ शिंदे के घर की सुरक्षा बढ़ाई गई: पुणे में एकनाथ शिंदे के घर की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। आशंका जताई जा रही है कि शिंदे की बगावत की खबरें सुनकर शिवसैनिक उनके घर के बाहर जमा हो सकते हैं। परिवार को भी सुरक्षा दी जा रही है।

भाजपा की बड़ी जीत, देवेंद्र फडणवीस का कद बढ़ा: महाराष्ट्र विधान परिषद चुनाव में भाजपा अपनी सभी 5 सीटें जीतने में कामयाब रही। शिवसेना को 2, तो एनसीपी को 2 सीट मिली। एमएलसी चुनावों में क्रॉस वोटिंग हुई, जिसका फायदा भाजपा को पहुंचा। परिणाम आने के बाद महाराष्ट्र भाजपा के नेता देवेंद्र फडणवीस की तारीफ कर रहे हैं।