निर्माणाधीन कुम्हारी ओवर ब्रिज पर सुबह- शाम लग जाती है दो किलोमीटर लंबी जाम, ड्यूटी वालों के साथ आम यात्रियों को हो रही है परेशानी, जिले के कलेक्टर ने दलबल सहित लिया कार्य की प्रगति का जायजा

 *ओवरब्रिज के शुरू होने से यातायात भार में आयेगी 50 फीसदी की कमी:- कलेक्टर


दुर्ग, भिलाई।

असल बात न्यूज़।। 

दुर्ग रायपुर नेशनल हाईवे पर स्थित निर्माणाधीन कुम्हारी ओवर पर सुबह 9:00 से 12:00 और शाम को 4:00 से  रात 8:00 बजे तक दोनों तरफ लगभग एक किलोमीटर जाम की स्थिति निर्मित हो जाती है।इस दौरान आम यात्रियों को कितनी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है इसका सहज अंदाजा लगाया जा सकता है। इस जाम के बीच प्रतिदिन छिटपुट दुर्घटनाएं भी हो रही है। ऐसे में लोग चाहते हैं कि इस ओवरब्रिज पर शीघ्र ही आवागमन शुरू हो जाए। जिले के कलेक्टर सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने आज ओवर ब्रिज स्थल पर पहुंचकर कार्य की प्रगति का जायजा लिया। उन्होंने नेशनल हाईवे के अधिकारियों को यह कार्य शीघ्र पूर्ण करने का निर्देश दिया है।

   कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कुम्हारी पहुंचकर  नेशनल हाईवे के संबंधित इंजीनियरों को शीघ्र ओवरब्रिज का कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिया। उन्होंने उपस्थित अधिकारियों को लाइटिंग और लेवलिंग संबंधित कार्यों को जल्द से जल्द पूरा करने के लिए कहा ताकि सर्विस रोड पर निर्मित यातायात के भारी दबाव को लगभग 50 फीसदी तक कम किया जा सके। उल्लेखनीय है कि प्रतिदिन 5 हजार से ज्यादा लोग रायपुर और दुर्ग के बीच आवागमन करते हैं। मुंबई कोलकाता को जोड़ने वाले इस नेशनल हाईवे पर हर मिनट लंबी दूरी वाली गाड़ियों की भारी भीड़ रहती है। तो वही सुबह और शाम को लोकल भीड़ के साथ ड्यूटी आने जाने वालों की भारी भीड़ बढ़ जाती है।

  कलेक्टर श्री भूरे ने वहां इसके अलावा  शहर को कनेक्ट करने वाली अन्य सड़कों और ओवर ब्रिज का भी निरीक्षण किया। एनएच के इंजीनियरों के साथ वे खुर्सीपार ओवरब्रिज, डबरापारा चौक, पावर हाउस ओवरब्रिज, चंद्रा-मार्य ओवरब्रिज और सुपेला ओवरब्रिज भी पहुंचे थे। उन्होंने ओवरब्रिज के साथ साथ सर्विस रोड को भी दूरूस्त कराने की बात कहीं। बरसात के दिनों में नागरिकों को जल भराव स्थिति से न गुजराना पड़े इसके लिए उन्होंने सुनियोजित तरीके से ड्रेनेज सिस्टम पर काम के लिए कहा। इस अवसर पर एसपी श्री अभिषेक पल्लव, डीएसपी श्री गुरूजीत सिंह एवं अन्य अधिकारी व कर्मचारीगण उपस्थित थे।