पति ही निकला पत्नि का हत्यारा ,थाना रानीतराई पुलिस की त्वरित कार्यवाही

 

* आपसी विवाद में पत्नी की गला दबाकर हत्या करने वाला आरोपी गिरफतार

पाटन,दुर्ग ।

असल बात न्यूज़।। 

लगभग दस दिन पहले घर में ही फांसी पर लटकी मिली महिला का उसका पति ही हत्यारा निकला। स्थानीय पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। Postmortem report में महिला की मुंह तथा गला दबाने से मृत्यु होना बताया गया है। बताया जाता है कि ससुराल में पति के साथ मारपीट की गई थी इसलिए उसने इस घटना को अंजाम दे दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना रानीतराई के अंतर्गत आने वाले ग्राम बोरेंदा में पिछले 17 को 25 वर्षीय श्रीमति राजकुमारी यदू पति घनश्याम यद् की उसके घर में ही फांसी पर लटकी लाश पाई गई थी।  सूचना पर थाना रानीतराई में मर्ग क्रमांक 16/22 धारा 174 जा. फी कायम कर मर्ग पंचनामा कार्यवाही में लिया गया। मृतिका के शव का पी. एम शास अस्प पाटन में कराया गया।  डॉक्टर द्वारा पीएम रिपोर्ट में मृतिका की मृत्यु मुंह एवं गला को दबाने से होना  लेख किया गया है। जिस पर थाना रानीतराई में अपक 33/22 धारा 302 भादवि कायम कर विवेचना में लिया गया।

घटना की विस्तृत जानकारी से  पुलिस अधीक्षक  डॉ० अभिषेक पल्लव (भापुसे) एवं अतिरिक्त पुलिस अधिक्षक  ग्रामीण  अनंत साहू एवं पुलिस अनु० अधिकारी  देवाश सिंह राठौर को अवगत कराया गया। हत्या की गंभीरता को देखते हुए   मृतिका के पति संदेही  धनश्याम यदु से पुछताछ किया गया जो अपना कथन बार-बार बदलता रहा, जिससे कड़ाई से पूछताछ करने पर बताया कि अपनी पत्नि एवं बच्चे को लेकर अपने ससुराल मंदिर हसौद पूजा कार्यक्रम में गया था जहा ससुराल वालों द्वारा मेरे साथ लडाई झगड़ा कर मारपीट कर दिया उसी बात को लेकर अपनी पत्नी से आये दिन झगड़ा करते रहता था। घटना दिनांक को उसी बात को लेकर पति पत्नी दोनों के बीच विवाद हो गया जिस कारण खाट में रखे कथरी से अपनी पत्नी के मुह को दबाकर तथा हाथ से गला को दबाने से बेहोश होने के बाद गमछा से गला को दबाकर हत्या कर दिया, उसके बाद अपने बचाव मे आत्महत्या बताने की नियत से अपनी पत्नी के गले में साड़ी को बाध कर फासी पर लटका दिया. आरोपी द्वारा अपनी पत्नी की हत्या करना कबुल करने पर आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायायिक रिमाण्ड पर जेल भेजा गया है।

उपरोक्त कार्यवाही में पुलिस अनुविभागीय अधिकारी पाटन श्री देवांश राठौर: के निर्देशन में थाना प्रभारी निरीक्षक मनोज प्रजापति, सहा उप निरीक्षक नकुल प्रसाद ठाकुर प्र0आर लोकेश लहरी आर० तुलेश धनकर आर० तालेंद्र चंद्राकर आर० धनंजय सिन्हा आर० लक्ष्मी नारायण आर० डेकेश बछोर नेताम आर० तुकाराम निर्मलकर की भूमिका सराहनीय रही।