चुनाव प्रचार के बीच मंत्री अमरजीत भगत का बिगड़ा स्वास्थ्य,व्रत के कारण डिहाइड्रेशन का शिकार

 

रायपुर, राजनांदगांव।

असल बात न्यूज़।। 

राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति तथा संस्कृति मंत्री अमर जीत भगत अस्वस्थ हो गए हैं। राज्य में चल रहे खैरागढ़ विधानसभा के बड़े उपचुनाव में कांग्रेस पार्टी के द्वारा सभी मंत्रियों के साथ उन्हें भी चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी दी गई है। बताया जाता है कि तेज गर्मी में लगातार चुनाव प्रचार के दौरान डिहाईड्रेशन का शिकार हो गए हैं। एक निजी अस्पताल में निजी चिकित्सकों की देखरेख में उनका इलाज शुरू कर दिया गया है। उनका इलाज कर रहे चिकित्सकों ने बताया है कि वे जल्द स्वस्थ हो जाएंगे।

छत्तीसगढ़ में हो रहा खैरागढ़ विधानसभा का उपचुनाव दोनों मुख्य राजनीतिक दलों कांग्रेस व भाजपा के लिए काफी प्रतिष्ठापूर्ण हो गया है। दोनों मुख्यालय के किसानों ने इसक चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है तथा एक एक कार्यकर्ताओं को चुनाव प्रचार में लगाया गया है।मुख्यमंत्री, कांग्रेस प्रदेश प्रभारी सहित कांग्रेस के आला मंत्रियों और विधायक खैरागढ़ पहुंचकर बूथ स्तर पर पहुंच रहे हैं और पार्टी के प्रत्याशी को जिताने के लिए मेहनत कर रहे हैं।

इसी बीच  छतीसगढ़ के कैबिनेट व राजनांदगांव के प्रभारी मंत्री अमरजीत भगत का स्वास्थ्य खराब हो गया है। जानकारी के अनुसार मंत्री श्री भगत रोज की तरह आज सुबह खैरागढ़ प्रचार कार्यक्रमों में शामिल होने के लिए रवाना होने वाले थे इसी बीच उनकी अचानक तबियत बिगड़ गई, मंत्री श्री भगत ने अभी नवरात्रि का व्रत भी रखा हुआ है,

*डॉक्टर्स ने क्या कहा

 जानकारी के अनुसार उनका इलाज कर रहे डॉक्टरों ने बताया है कि मंत्री श्री भगत व्रत रहने के बावजूद चिलमिलाती धूप में  अपने प्रभार क्षेत्र में लगातार उपचुनाव में व्यस्त थे। गर्मी और व्रत के कारण मंत्री भगत डिहाइड्रेशन का शिकार हो गए हैं ।

मंत्री श्री भगत उपचुनाव के नामांकन के दिन से ही लगातार खैरागढ़ चुनाव के सघन दौरे में रहे हैं, 40-42 डिग्री सेल्सियस की धूप में सघन दौरा कर रहे थे। निजी डॉक्टरों की देख-रेख में उनका उपचार निवास में ही किया जा रहा है, जहां डॉक्टरों ने उन्हें कम्प्लीट बेडरेस्ट की सलाह दी है।

मंत्री श्री भगत ने कहा है कि वो जल्द ही स्वस्थ होकर  चुनाव कार्यक्रमों में  शामिल होंगे।