नगर पंचायत कर्मचारी की करंट से मौत के मामले में पाटन की सियासत गरमाई, सांसद विजय बघेल मिलेंगे पीड़ित के परिजनों से, उत्तर प्रदेश में 50 लाख, तो पाटन में क्यों नहीं ? का मुद्दा सरगर्म

 पाटन, दुर्ग।

असल बात न्यूज़।। 

पाटन में राजनीति फिर गर्मा रही है। एक कर्मचारी की करंट लगने से मौत के बाद यहां राजनीति गरमा गई है। पाटन, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का विधानसभा क्षेत्र है तो वे  वहां की प्रत्येक छोटी-बड़ी घटना को अत्यंत गंभीरता से लेते हैं। उस कर्मचारी की मौत पर उन्होंने गहरा शोक व्यक्त किया है और पीड़ित के परिजनों को तत्काल सहायता राशि देने की घोषणा की है। लेकिन भाजपा ने इस पर असंतोष जाहिर किया है। सवाल उठाया जा रहा है कि उत्तर प्रदेश में 50 लाख तो पाटन के  युवा कर्मचारी को सिर्फ चार लाख ही क्यों ? पता चला है कि सांसद विजय बघेल आज उस क्षेत्र का दौरा करने वाले हैं और वे पीड़ित के परिजनों से भी मिलेंगे। उसके बाद यहां के राजनीतिक माहौल में सरगर्मी बढ़ती दिख रही है। 

सांसद विजय बघेल ने नगर पंचायत पाटन के गौठान के कर्मचारी देवेंद्र कुमार मार्कण्डेय  के गौठान में कार्य करने के दौरान करंट लगने से निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है यह राजनीति का मुद्दा नहीं है बल्कि संवेदना की बात है। देवेंद्र कुमार मार्कण्डेय सरकार की महत्वकांक्षी योजना नरवा, गरवा, घुरवा, बाड़ी के अंतर्गत गौठान में कार्यरत थे। उनके परिजनों को सिर्फ   4 लाख रुपए की सहायता राशि देने की घोषणा दुःखद है। उत्तरप्रदेश के किसानों को 50-50 लाख रुपया दिया गया और पाटन विधानसभा क्षेत्र के कर्मचारियों को मिलती हो जाने पर  4 लाख रुपये की सहायता देना दुर्भाग्य की बात है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार सांसद विजय बघेल आज पाटन पहुंचेंगे और उक्त पीड़ित परिजनों से मुलाकात करेंगे। इस दौरान भाजपा के बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं के भी उपस्थित रहने की संभावना है। बताया जाता है कि वे घटनास्थल पर भी जाएंगे और वहां घटना आखिर किस वजह से हुई, इसके लिए जिम्मेदार कौन है, क्या घटना मानवीय भूल की वजह से हुई और इसे रोका जा सकता था ? इसके बारे में वहां कार्यरत कर्मचारियों से भी बातचीत करेंगे।