ऑनलाइन सट्टा महादेव बुक का ब्रांच प्रमुख चेतन जोशी गिरफ्तार


▪️ ऑनलाइन सट्टा पर दुर्ग पुलिस की एक और कार्यवाही

▪️आरोपी के पास से लाखों की सट्टा पट्टी, लग्जरी कार, विभिन्न बैंक के पासबुक, एटीएम कार्ड एवं 20 नग सिम बरामद

▪️थाना जामुल एवं साइबर सेल की संयुक्त कार्यवाही 

भिलाई ।

असल बात न्यूज़।। 

थाना जामुल व साईबर सेल टीम के संयुक्त कार्यवाही कर से दुबई से लौटे ऑनलाईन सट्टा महादेव बुक के बाँच प्रमुख भुपेश जोशी  के भाई चेतन जोशी  उम्र 23 साल सा . ब्लाक ए .म.न . 3 आम्रपाली वनांचल सीटी को पकड़ने में सफलता हासील की है ।  ऐसी घटनाओं से पता चल रहा है कि दुर्ग भिलाई में भी महादेव बुक के नाम से ऑनलाइन सट्टा बड़े पैमाने पर खिलाया जा रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार आरोपी चेतन जोशी से पुछताछ में पता चला कि आरोपी 3 माह पूर्व अपने भाई भुपेश जोशी एवं राज गुप्ता के साथ दुबई में ऑनलाईन सट्टा महादेव बुक की आईडी बनाने का कार्य करता था । जिसके एवज में आरोपी को सट्टा कारोबारी से मोटी रकम प्राप्त होती थी । अभी कुछ माह पूर्व आरोपी अपने भाई के कहने पर भारत वापस लौटा था  तथा भिलाई से ही सट्टा एवं ऑनलाईन सट्टा का कार्य करता था । ऑनलाईन सट्टे से होने वाले पैसो के ट्रानजेक्सन के लिये आरोपी को अजय नामक व्यक्ति से 20 नग सिम कार्ड प्राप्त हुए थे । जिन सिम कार्ड से आरोपी को एकाउंट खुलवाने थे तथा भविष्य मे होने वाले सट्टा संबंधी समस्त लेन देन इन्ही एकाउंट से किया जाना था । आरोपी द्वारा आज भी सट्टा पट्टी लिखने एवं ऑनलाईन सट्टा महादेव बुक खेलने का कार्य अपने कॉलोनी आम्रपाली के पास अपने कार क सीजी / 07 / सी . एफ . / 7777 से किया जा रहा था जिसे मुखवीर सुचना के आधार पर पकड़ने में सफलता मिली है । 

                  उमनि एवं वरि पुलिस अधीक्षक  दुर्ग के निर्देश पर एवं  अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक ( शहर ) व  नगर पुलिस अधीक्षक ( छावनी ) के मार्गदर्शन एवं निर्देशन पर ऑनलाईन सट्टा के विरूध कार्यवाही के क्रम में उक्त कार्रवाई की गई है।

             आरोपी के पास से लाखो की सट्टा पटट्टी नगदी 2,000 रू एक हॉनडाई एल्कजार कार क सीजी / 07 / सी . एफ . / 7777 एक एप्पल मोबाईल फोन विभिन्न बैकों के पासबुक एवं एटीएम कार्ड तथा 20 नग सिम कार्ड बरामद हुआ है । आरोपी के विरूध थाना जामुल में अपराध क 140 / 22 धारा 4 ( क ) जुआ एक्ट के तहत अपराध पंजीबध कर विवेचना में लिया गया है । 

       मामले में अन्य तथ्यों एवं बिंदुओं की जानकारी दुर्ग टीम द्वारा जुटाया जा रहा है जिनके आधार पर पृथक से वैधानिक कार्यवाही किया जायेगा।