लाउडस्पीकर के कर्कश शोर के खिलाफ जिला प्रशासन ने उठाए कड़े कदम, छात्रों और अभिभावकों ने दिया धन्यवाद

 दुर्ग, भिलाई ।

 असल बात न्यूज़।। 

जिले में जिला प्रशासन के द्वारा लाउडस्पीकर के कर्कश शोर, ध्वनि प्रदूषण के खिलाफ कड़ी कार्रवाई शुरू की गई है। कड़े कदम उठाए जा रहे हैं। इसका आज काफी कुछ असर दिखा है और इसके बाद आज ध्वनि प्रदूषण  काफी  नियंत्रित नजर आया है। जिले के भिलाई शहर की छत्तीसगढ़ ही नहीं देश दुनिया में  एजुकेशन हब के रूप में पहचान है और यहां इस परीक्षा के समय में ध्वनि प्रदूषण से छात्रों को कितनी परेशानियां हो रही है, इसका सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। ध्वनि प्रदूषण के खिलाफ कड़ी कार्रवाई शुरू होने पर छात्रों अभिभावकों ने जिला प्रशासन के प्रति आभार व्यक्त किया है। 

स्कूलों में बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो गई है। बच्चों का पूरा ध्यान पढ़ाई की ओर है। यह सबको मालूम है कि परीक्षा के समय बच्चों को पूरी एकाग्रता के साथ  अपने कोर्स की तैयारी करनी पड़ती है। और एजुकेशन हब भिलाई में तो बच्चे अपनी पढ़ाई के प्रति अधिक संजीदा हैं और यहां हर साल बच्चों में अधिक मार्क्स लाने कठिन प्रतिस्पर्धा नजर आती है। भिलाई शहर के बच्चे 10वीं और 12वीं की परीक्षा के बाद कई प्रतियोगी परीक्षा में टॉप करते रहे हैं। इनका बेहतर प्रदर्शन दूसरे बच्चों के लिए अग्रणी रहा है। पिछले कुछ वर्षों से इस शहर में लाउडस्पीकर का ध्वनि प्रदूषण लगातार बढ़ता जा रहा है। इससे बच्चों को असहज स्थिति का सामना करना पड़ रहा है तथा उनकी  पढ़ाई लिखाई प्रभावित होने लगी है उनकी एकाग्रता पर बाधा पैदा हो रही है। अभी बच्चों की बोर्ड परीक्षाएं शुरू हो गई है लेकिन लाउडस्पीकर का यह ध्वनि प्रदूषण कम नहीं हो रहा था। 

असल बात न्यूज़ ने इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया था। छात्रों तथा अभिभावकों के द्वारा लाउडस्पीकर का ध्वनि प्रदूषण कम कराने की मांग की गई थी। जिला प्रशासन के द्वारा कार्रवाई शुरू कर दी गई है जिसके बाद आज यह ध्वनि प्रदूषण कम महसूस हुआ है। शोर कम होने के बाद अभिभावकों तथा छात्रों ने जिला प्रशासन के प्रति आभार व्यक्त किया है।