अधिकतर ग्रामीणों को अपात्र सूची में रखने का आरोप तथ्यहीन, नया रायपुर में प्रभावित किसानों के मामले में NRDA का कथन

 *नवा रायपुर के प्रभावित ग्रामों का आवासीय सर्वे जारी

*11 में से 8 गांवों की सर्वे सूची दावा आपत्ति के लिए प्रारंभिक प्रकाशन किया गया

रायपुर ।

असल बात न्यूज़।।

नवा रायपुर अटल नगर विकास प्राधिकरण द्वारा नवा रायपुर के प्रभावित ग्रामों का आवासीय सर्वे किया जा रहा है। मंत्री स्तरीय समिति के निर्देशानुसार सर्वे कार्य 15 फरवरी 2022 से प्रारंभ किया गया था। इस हेतु 7 दलों का गठन किया गया था। गठित दलों के द्वारा लेयर 1 के 11 ग्रामों में सर्वे की कार्यवाही पूर्ण कर ली गई है। 

नवा रायपुर अटल नगर विकास प्राधिकरण से मिली जानकारी के अनुसार अटल नगर नवा रायपुर क्षेत्र के प्रभावित गांवों के 11 में से 8 गांवों का सर्वे सूची अब तक दावा-आपत्ति हेतु प्रारंभिक प्रकाशन किया गया है। 8 गांवों में से 1648 आवासीय पट्टा जो कि आवासीय भूमि या शासकीय भूमि पर स्थापित है, उन्हें पट्टा दिया गया है। 413 प्रकरणों में नया तार का घेरा, खुली भूमि, दुकान या होटल जैसे व्यवसायिक भूमि या कोई निवासरत नहीं होना, के आधार पर अपात्र पाया गया तथा 64 आवास ऐसे हैं जो निजी भूमि पर है। अटल नगर विकास प्राधिकरण ने कहा है कि नवा रायपुर प्रभावित किसान कल्याण समिति द्वारा आरोप लगाया जा रहा है कि अधिकतर ग्रामीणों को अपात्र सूची में रखा गया है, यह आरोप तथ्यहीन है। 


राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2011 की जनगणना सूची के आधार पर निवासियों को जहां पर स्थापित हैं, वहीं यथासंभव यथास्थिति पट्टा दिया जाना है। वर्तमान में 8 ग्रामों में सर्वे सूची का प्रारंभिक प्रकाशन किया गया है। 15 दिवस की समयावधि दावा आपत्ति हेतु इन प्रकरणों में दी गई है। अतः सूची में किसी प्रकार की आपत्ति है तो प्राधिकरण कार्यालय में आपत्ति दे सकते हैं एवं इस प्रकार की दावा आपत्ति के निराकरण किया जाकर अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।