आई ए एस भारतीदासन ने कृषि छात्रों को दी सिविल सेवा परीक्षा की तैयारियों पर सलाह

 

भिलाई।

असल बात न्यूज़।।

कृषि महाविद्यालय रायपुर में चल रहे वर्चुअल गोष्ठी में आई ए एस श्री एस भारतीदासन ने  कृषिछात्रों को सिविल सेवा में रुझान बढ़ाने के लिए प्रेरित किया। इस वर्चुअल गोष्ठी का विषय "Aiming civil service with Agriculture education  background" था। इस कार्यक्रम में मुख्य वक्ता में आई ए एस श्री एस भारतीदासन ने  सिविल सेवा की तैयारी के लिए कृषि छात्रों को अपने  महत्वपूर्ण व्यक्तिगत एवं सार्वभौमिक सलाह समायोजित की जिसे छात्र  अनुपालन कर परीक्षा तैयारी के दौरान अनावश्यक त्रुटि से बच सके।

 उन्होंने  बताया कि छात्र बाह्य आकर्षण से दूर रहकर समय केंद्रित पढाई को प्राथमिकता के साथ करे तो निश्चय ही सफलता को प्राप्त कर सकते हैं। सोशल मीडिया के भ्रामकता से दूर रहकर एवं समुचित पाठ्य सामग्री के उचित अध्ययन से तैयारी करने की सलाह छात्रों को दी।यह ज्ञातव्य होगा कि आई ए एस श्री एस भारतीदासन ने स्वयं कृषि शिक्षा के पाठ्यक्रम से अपनी उपाधि प्राप्त की है और इस विषय से ही सिविल सेवा की परीक्षा को उत्तीर्ण की है उनके इस  शैक्षणिक पृष्ठभूमि से इंदिरा गाँधी कृषि विश्वविद्यालय रायपुर के छात्र सिविल सेवा की तैयारी के लिये प्रेरित हुए। इस कार्यक्रम में अधिष्ठाता छात्र कल्याण मेजर डॉ जी के श्रीवास्तव एवं अधिष्ठाता डॉ एम पी ठाकुर की गरिमामयी उपस्थिति रही

।इस अवसर पर कृषि महाविद्यालय रायपुर के अतिरिक्त अन्य राज्यो के छात्र छात्राओं ने इस सिविल सेवा के मार्गदर्शन की वर्चुअल गोष्ठी में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई और कार्यक्रम का लाभ लिया। इस कार्यक्रम के समन्वयक डॉ जेनु झा ,डॉ दीप्ति झा ,डॉ सुबही निषाद ,डॉ आशूलता कौशल और डॉ रामकुमार ठाकुर रहे।इस कार्यक्रम का सम्पादन कृषि शिक्षा में अध्ययनरत छात्रों के उज्ज्वल भविष्य निर्माण के लिए भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद के द्वारा प्रायोजित सहयोग से कृषि महाविद्यालय रायपुर के सानिध्य में हुआ।