पूर्व मंत्री राजेश मूणत की पिटाई और गिरफ्तारी से थाना विधानसभा क्षेत्र में तनाव बढ़ा, पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने चेतावनी दी लगातार चलता रहेगा थाना परिसर में धरना, कल राज्यपाल से मिलकर ज्ञापन दिया जाएगा, एक दिन बाद पूर्ण रायपुर बंद का आह्वान


 

संबंधित टीआई के खिलाफ कार्रवाई की मांग

रायपुर।

असल बात न्यूज़।। 

पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह और भारतीय जनता पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेताओं के विधानसभा थाना पहुंचने के बाद पूर्व मंत्री राजेश मूणत की  गिरफ्तारी और कथित पिटाई का मामला और तूल पकड़ता जा रहा है। वहां भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता लगातार धरने पर बैठ गए हैं और पूर्व मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने कहा है कि हमारे कार्यकर्ताओं की 24 घंटे के भीतर मांग पूरी नहीं होती तब तक थाने में ऐसा ही धरना चलता रहेगा और कल राज्यपाल को इस मुद्दे पर ज्ञापन दिया जाएगा तथा एक दिन बाद यानी कि सोमवार को रायपुर बंद का आह्वान किया गया है। विधानसभा थाना परिसर में इस समय भाजपा के सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता पहुंच गए हैं और जमकर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। वरिष्ठ नेताओं के पहुंचने के बाद यह विरोध प्रदर्शन और तेज हो गया है। 

इस दौरान पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा है कि यहां बर्बर पुलिस प्रताड़ना देखी गई है। जिस तरह से पूर्व मंत्री भाजपा के प्रवक्ता तथा कार्यकर्ताओं के साथ दुर्व्यवहार किया गया सारी सीमाएं लांघ दी गई हैं। उन्होंने कहा कि बर्बरता पूर्वक पुलिस कार्रवाई के विरोध में थाना का घेराव किया जा रहा है। यहां धरना सतत जारी रहेगा और थाने के अंदर ही धरना चलता रहेगा। उन्होंने कहा कि पुलिस चाहे तो गिरफ्तारी कर ले कार्यकर्ताओं का धरना निरंतर चलता रहेगा। उन्होंने स्पष्ट करते हुए कहा है कि धरने पर बैठे लोगों  की गिरफ्तारी कर ली जाएगी तो 40, 50 लोग और आएंगे। इनको भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा तो फिर दूसरे 40,50 लोग धरना पर बैठेंगे। उन्होंने कहा कि हमने जो शिकायत की है, पूर्व मंत्री राजेश जी ने जो शिकायत की है उस पर समुचित कार्रवाई नहीं होती, तब तक यह धरना जारी रहेगा। पूर्व मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने आगे के कार्यक्रम में बताया कि कल इस मामले में राज्यपाल महोदय से मुलाकात की जाएगी तथा उन्हें अपनी मांगों का ज्ञापन सौंपा जाएगा। पूरे रायपुर जिले के कार्यकर्ता जुलूस की शक्ल में शहर भ्रमण करते हुए गवर्नर हाउस पहुंचेंगे तथा अपनी मांगों का ज्ञापन देंगे। 24 घंटों के भीतर मांग नहीं पूरी होती तो अगले दिन यानी की सोमवार को रायपुर बंद का आह्वान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह विरोध प्रदर्शन करने का कार्यक्रम अलग चलता रहेगा लेकिन इसके साथ विधानसभा थाना परिसर में धरना  निरंतर जारी रहेगा। उन्होंने कहा है कि इस मामले में संबंधित थाना के टीआई के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए।