सुपेला से लापता युवक को सुरक्षित बचा लाने में मिली सफलता,उड़िसा गांजा कार्टेल का प्रमुख सरगना गिरफ्तार, गिरोह के 04 सदस्य गिरफ्तार, तीन सुनील , आजाद , परवेज फरार


▪️ 48 घण्टे के लगातार रेस्क्यू ऑपरेशन से मिली सफलता

▪️ 4 दिन पहले लापता युवक का विडियो हुआ था वायरल

▪️ नारकोटिक्स टीम की बड़ी कार्यवाही

▪️ कालाहाण्डी उड़िसा के घोर नक्सल प्रभावित क्षेत्र से दोनों युवकों को किया सुरक्षित बरामद

▪️ अन्तराज्यीय गांजा तस्कर गिरोह के दो तस्करों को कालाहाण्डी उडिसा से टीम ने किया गिरफ्तार

▪️ नारकोटिक्स टीम द्वारा ड्रग्स से जुड़े अपराधों के खिलाफ की जावेगी प्रभावी कार्यवाही 

दुर्ग,भिलाई।

असल बात न्यूज़।।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार मामले में लापता युवक पिछले कुछ दिनों से भिलाई क्षेत्र से कुछ दिनों पहले गांजा तस्करों के साथ उड़िसा के कालाहाण्डी क्षेत्र में गया था जिसके बाद से युवक अपने घर नहीं लौटा था। युवक सतीश गंथर्व के परिजनों द्वारा थाना सुपेला में गुम इंसान दर्ज कराया था । मामले में 03 दिन पूर्व सोशल मिडिया के माध्यम से एक विडियो प्राप्त हुआ जिसमें लापता युवक को नग्न हालत में प्रताड़ित कर पैसों की मांग परिजनों से की जा रही थी । विडियो से स्पष्ट रूप से किसी घने जंगलों के मध्य लापता युवक को रख कर प्रताड़ित करना दिखाई दे रहा था विडियो वायरल होते ही तकनीकी विश्लेषण कर नारकोटिक्स सेल क्रमशः निरीक्षक सुरेश ध्रुव , निरीक्षक गौरव तिवारी , सउनि पूर्ण बाहदुर समेत तत्काल 02 टीमें उडीसा रवाना की गई । 

                 नारकोटिक्स टीम द्वारा सूचना के आधार पर उड़िसा के जिला कालाहाण्डी के ताल नुआगॉव , मोहनगिरी मनीखेरा के घने जंगलो में लगातार दबिश दी गई । नारकोटिक्स टीम को गांजा तस्कर अनिल सोनी उर्फ गुडवा , सुनील , आदम , अनिल के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त हुई कि अनिल सोनी उर्फ गुडवा थाना सुपेला क्षेत्र का निगरानी बदमाश है जिसके विरूद्ध आधा दर्जन से अधिक अपराधिक मामले दर्ज है एवं थाना सुपेला का निगरानी बदमाश है । वर्तमान में उड़िसा के कालाहाण्डी में रहकर गांजा तस्करी के लिये एक संगठित गिरोह बनाकर राज्य के अलग - अलग क्षेत्रों में गांजा सप्लाई कर रहा है । गांजा तस्करों के द्वारा सतीश गंधर्व को कालाहाण्डी के घने जंगलो में अपहरण कर निरूद्ध कर रखे है । टीम के द्वारा गांजा तस्करों के ठिकानों पर दबिश दी गई लेकिन वो वहाँ की भौगोलिक स्थिति एवं घने जंगलो का फायदा उठाकर ठिकाना बदल रहे थे । रात्रि करीबन 10 बजे टीम द्वारा मजबूत रणनिति के साथ घेराबंदी कर अपहृत युवक सतीश गंधर्व एवं शहनवाज को सुरक्षित रेस्क्यु किया गया एवं 02 आरापियों आदम , अनिल को गिरफ्तार किया गया जबकि गिरोह का सरगना अनिल उर्फ गुडवा घने जंगलो व अंधेरे का फायदा उठाकर बच निकला । हिरासत में लेकर आरोपियों से पूछताछ करने पर मामले में संलिप्त लोकल एसोशिएट मोह . शहजाद उर्फ चिड़िया को गिरफ्तार किया गया है वहीं परवेज खान जो कि सुपेला का निगरानी बदमाश है फरार है जिसके गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहें है तथा उड़िसा कालाहाण्डी से दुर्ग पुलिस द्वारा मुख्य सरगना अनिल सोनी उर्फ गुडवा को गिरफ्तार कर लाया जा रहा है । मामले में आरोपियों से नारकोटिक्स सेल द्वारा पूछताछ की जा रही है जिससे ड्रग्स से जुड़े अवैध कारोबारियों अपराधियों की पुख्ता जानकारी टीम को प्राप्त हुई है जिनके खिलाफ लगातार कार्यवाही की जायेगी । 

                विवरण इस प्रकार है कि दिनांक 10.02.2022 को प्रार्थिया सविता गंधर्व ने अपने पुत्र सतीश गंधर्व के गुमशुदा होने की रिपोर्ट थाना सुपेला में दर्ज कराई थी जिसके संबंध में थाना सुपेला द्वारा जाँच की जा रही थी । जॉच के दौरान सतीश गंधर्व भिलाई के रहने वाले कुछ लोगों के साथ उड़िसा जाने की सूचना जॉच टीम को मिली थी इसी दौरान सतीश गंधर्व के परिजनों को वाटसएप के माध्यम से कुछ लोगों द्वारा विडियो भेजा गया जिसमें लापता युवक को प्राताड़ित कर पैसे की मांग की जा रही थी । सोशल मिडिया में अपहृत युवक का विडियो वायरल होते ही मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुये वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री बी . एन . मीणा ( भा . पु.से. ) ने युवक को सुरक्षित रेस्क्यू करने के लिये नवगठित नारकोटिक्स टीम को निर्देशित किया तथा अति पुलिस अधीक्षक शहर श्री संजय ध्रुव ( रा.पु.से. ) , नगर पुलिस अधीक्षक भिलाई नगर श्री राकेश जोशी एवं नारकोटिक्स सेल के प्रभारी उप पुलिस अधीक्षक श्री नसर सिद्धकी को नारकोटिक्स टीम के साथ संपर्क में रहकर मामले की जानकारी से अवगत कराने हेतु निर्देशित किया । 

           मामले में इनकी भूमिका सराहनीय रही निरीक्षक सुरेश ध्रुव थाना प्रभारी सुपेला ( नारकोटिक्स सेल ) , निरीक्षक गौरव तिवारी प्रभारी सायबर सेल ( नारकोटिक्स सेल ) , सउनि पूर्ण बहादुर ( नारकोटिक्स सेल ) , नारकोटिक्स सेल से आरक्षक अनूप शर्मा , पन्नेलाल , रिन्कु सोनी , सिविल टीम से संतोष गुप्ता , जुगनु सिंह , शहबाज खान , थाना सुपेला से आरक्षक विकास तिवारी , जुनैद सिद्धकी , उपेन्द्र सिंह , नियाज खान मामले में थाना एम . रामपुर , जिला कालाहाण्डी , उड़िसा की भूमिका भी सराहनीय रही ।