राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन राज्य कार्यालय से नियुक्त 1500 कर्मचारी अधिकारी के नियुक्ति दस्तावेज गायब होने की खबर भ्रामक

 

रायपुर ।

असल बात न्यूज़।।

 राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन राज्य कार्यालय से नियुक्त 1500 अधिकारी के नियुक्ति दस्तावेज गायब होने के संबंध में वायरल हो रहा समाचार पूर्णतः भ्रामक है। वर्तमान में राज्य कार्यालय, राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, छत्तीसगढ़ में कार्यरत सभी अधिकारियों/कर्मचारियों की व्यक्तिगत फाईल अद्यतन की जा रही है। राज्य कार्यालय में कुछ अधिकारी/कर्मचारी 10-12 साल पूर्व संचालनालय स्वास्थ्य सेवायें, छत्तीसगढ़़ से नियुक्त किये गये थे, जिनके नियुक्ति के समय के दस्तावेज वर्तमान में राज्य कार्यालय में उपलब्ध नहीं है। 

इस कारण भविष्य में कर्मचारी कल्याण योजनाओं जैसे-बीमा इत्यादि को इन सभी कर्मियों को मुहैया कराने में समस्या न हो , इस हेतु सभी की व्यक्तिगत फाईल अद्यतन की जा रही है। इसी लिये एन.एच.एम. में कार्यरत कुछ पुराने कर्मचारियों से उनकी फाईल में जो दस्तावेज कम हैं, वे व्यक्तिगत दस्तावेज ही मंगाये जा रहे हैं।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के राज्य कार्यालय में वर्तमान समय में लगभग 200 अधिकारी/कर्मचारी कार्यरत हैं, इनमें से 43 पुराने कर्मचारी के ही अनुपलब्ध दस्तावेजों को अद्यतन करने के लिये मंगाये जा रहे हैं। यह विदित हो कि एन.एच.एम. में कर्मचारियों के सेवा संधारण एच.आर.एम.आई.एस. के माध्यम से किया जाता है, जिसमें सभी कर्मचारियों की अद्यतन जानकारी रखी जाती है, जिनके दस्तावेजों में कुछ कमी पायी गयी है, उन्हीं कर्मचारियों से अनुपलब्ध दस्तावेजों को मंगाया जा रहा है, शेष सभी कर्मचारियों के संपूर्ण दस्तावेज पूर्व से ही नियमानुसार एन.एच.एम. कार्यालय में संधारित किये गये हैं। यह पूर्णतः गलत है कि एन.एच.एम. कार्यालय के सभी अधिकारियों/कर्मचारियों के कार्यालय से नियुक्ति संबंधी कर्मचारियों की नौकरी खतरे में पड़ गयी है। वर्तमान में मंगाये जा रहे दस्तावेज कर्मचारियों के भविष्य में सुविधा के लिये सेवा संधारण हेतु मंगाये जा रहे हैं।