उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के स्टार प्रचारक राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी के साथ उत्तराखंड मंच साझा किया

 

*प्रियंका गांधी ने भाजपा पर बोलाहमला, कहा-सरकार की नीयत व नीति दोनों में खोट


रायपुर ।

असल बात न्यूज़।।

 राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल ने उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में स्टार प्रचारक के रूप में आज कांग्रेस महासचिव श्रीमती प्रियंका गांधी के साथ हल्द्वानी में मंच साझा किया। ज्ञात हो कि राजस्व मंत्री उत्तराखंड विधासभा चुनाव के स्टार प्रचारक एवं अल्मोड़ा लोकसभा क्षेत्र के ऑब्जर्वर हैं। आज हल्द्वानी उत्तराखंड में कुमाऊं मंडल में प्रियंका गांधी ने धुंआधार प्रचार किया पहले उन्होंने सीएम धामी की खटीमा सीट से भाजपा पर हमला बोला। उसके बाद वे हल्द्वानी पहुंचीं। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने हल्द्वानी में उत्तराखंड स्वाभिमान रैली को संबोधित किया।

प्रियंका ने जनसभा में कहा कि मेरी दादी का उत्तराखंड से गहरा रिश्ता रहा है। वह प्रकृति, पहाड़ व पहाड़ी संस्कृति के बारे में मुझे बताती थीं। तब से मेरा भी उत्तराखंड से नाता रहा है। अभी मैं खटीमा से आई हूं। सड़कों की हालत देखकर मन दुखी हुआ। इंदिरा हृदयेश ने यहां के लिए काफी काम किया। उनके बेटे अब प्रत्याशी हैं। वे भी उसी तरह से काम करेंगे।

किसानों ने आंदोलन किया, वे सरकार की खराब नीतियों के खिलाफ अटल रहे। वे जानते हैं उन्हें इस कानून से कितना नुकसान होगा। बेरोजगारों को पिछले पांच सालों में नौकरी नहीं मिली। जबकि हरदा ने बताया कि राज्य के विभागों में कई पद खाली हैं, फिर भरे क्यों नहीं जा रहे। पूरे देश में सबसे अधिक बेरोजगारी उत्तराखंड में है। पलायन हो रहा, गांव खाली हो रहे। बड़े शहरों में यहां के हुनरमंद युवा काम कर हैं, क्योंकि उन्हें घर में काम नहीं मिल रहा। महंगाई चरम पर है। गैस सिलेंडर तक लोगों को नहीं मिल पा रहा है। सरकार की नीयत व नीति में खोट है। यदि ये दोनों सही होती तो कोई परेशानी नहीं होती। देश में लाभ सिर्फ मोदी के दो उद्योगपति दोस्तों को हो रहा है, उन्हें ही लाभ मिल रहा है। आंख बंद कर वोट मत कीजिए। यह कैसी सरकार है तीन-तीन सीएम बदल रहे हैं। इन्हें सरकार चलाने का कोई अनुभव ही नहीं हैं। 

इससे पूर्व मंच पर कुमाऊंनी पिछोड़ा पहनाकर मीना लटवाल ने उनका स्वागत किया। दमवाढूंगा की मीना ने हाल में दराती से बाघ का सामना कर खुद को बचाया था। प्रियंका को नीम करौली और गोल्ज्यू की प्रतिमा भी भेंट की गई। इससे पहले वह कार से रोड शो करती हुई सभास्थल एम.बी.पी.जी. इंटर कालेज मैदान पहुंचीं। हल्द्वानी से प्रत्याशी सुमित हृदयेश ने कार खुद ड्राइव की।

जनसभा में प्रियंका गांधी के संबोधन से पूर्व भाजपा में मंत्री रहे यशपाल आर्य, पुत्र संजीव आर्य के साथ कांग्रेस में शामिल हुए, ने पहले जनसभा को संबोधित किया। उन्होंने महंगाई, बेरोजगारी आदि मुद्दों पर भाजपा को घेरा। उन्होंने लोगों से उत्तराखंड में भाजपा मुक्त का आह्वान किया। उसके बाद उत्तराखंड कांग्रेस के सबसे बड़े नाम पूर्व सीएम हरीश रावत ने संबोधन किया। उन्होंने कोरोना में लोगों की परेशानी का ठीकरा भाजपा के सिर फोड़ा। उन्होंने कहा कि हम उपभोक्ता राज्य है। हमारा दर्द भाजपा ने नहीं समझा। कांग्रेस का घोषणा पत्र उत्तराखंड को समर्पित है। वह प्रदेश के दर्द में मरहम का काम करेगा। हरदा को भाजपा के नेता बहुत याद कर रहे हैं। वह हमको हार दा कहतें है। मैं हरदा हूं, हारने वाला नहीं हूं। हमने त्रासदी से प्रदेश को निकालकर खड़ा किया है।


सभा में उत्तराखंड प्रभारी - देवेन्द्र यादव, पूर्व मुख्यमंत्री- हरीश रावत, सह प्रभारी- दीपिका पाण्डेय सिंह, प्रकाश जोशी, जिला अध्यक्ष-सतीश नैनवाल, हल्द्वानी प्रत्याशी-सुमित हिरदेश, कालाडुगी प्रत्याशी-महेश शर्मा, यशपाल आर्या, छत्तीसगढ़ स्वास्थ्य मंत्री टी.एस.सिंहदेव, बिलासपुर विधायक शैलेश पाण्डेय,  पंकज सिंह के अलावा हल्द्वानी क्षेत्र के उत्साहित जनता उपस्थित रही।