मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के खिलाफ एफआईआर योगी मोदी की बौखलाहट -कांग्रेस

 

रायपुर ।

असल बात न्यूज़।।

 मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के खिलाफ उत्तरप्रदेश के नोएडा में चुनाव प्रचार के दौरान कोविड नियमो के उल्लंघन का हवाला दे कर रिपार्ट दर्ज किया जाना योगी और मोदी की बौखलाहट को दर्शाता है। कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल चुनाव आयोग के निर्देशों के अनुरूप 5 व्यक्तियों के साथ घर घर जा कर जनसम्पर्क कर रहे थे ।उन्होंने इस दैरान कोविड के प्रोटोकाल का पूरा पालन किया । इसके बावजूद उनके विरुध्द रिपोर्ट दर्ज करवाया जाना इस बात को बताता है कि भूपेश बघेल के यूपी में चुनाव प्रचार से भाजपा घबराई हुई है ।जिस प्रकार से यूपी की जनता छग के मुख्यमंत्री को सुनने देखने लालायित रहती है ।उनकी अभी तक हुई बनारस गोरखपुर आदि सभाओं में उमड़ी लाखो के जन सैलाब से मोदी योगी की नींद उड़ गई है।

    भारतीय जनता पार्टी किसी भी स्तर तक जा कर भूपेश बघेल को यूपी में चुनाव प्रचार करने  से रोकना चाहती है इसके पहले उन्हें लखनऊ हवाई अड्डे पर रोक गया था फिर उन्हें लखीमपुर जाने से रोका गया था अब नोएडा में योगी के  अधिकारी ने मुख्यमंत्री के खिलाफ झूठी रिपोर्ट दर्ज करवा दी है।

   कांग्रेस संचार प्रमुख सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि कांग्रेस की रास्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी की रणनीति और कांग्रेस की उम्मीदवारों की पहली सूची के बाद योगी और दूसरे दलों के नेता  समझ गए है अबकी बार उत्तरप्रदेश में कांग्रेस निर्णायक स्थिति में है जनता कांग्रेस में अपना भविष्य देख रही ।यूपी में कांग्रेस के बड़े झंडाबरदार भूपेश बघेल है यूपी के लोग भूपेश के  छत्तीसगढ़ मॉडल  का सपना अब अपने यहां भी देखने लगी है वहा किसानों में एक नई आस जगी है कि यूपी में कांग्रेस की सरकार बनने पर उनकी उपज की पूरी कीमत मिलेगी उनका कर्ज भी माफ होगा ।भूपेश बघेल की स्वीकार्यता और लोकप्रियता से घबराई भाजपा अब उनके चुनाव प्रचार में बाधा की  अलोकतांत्रिक रास्ता अख्तियार कर रही है