कई जिलों में पॉजिटिविटी दर 10% से अधिक, छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना के संक्रमण का फैलाव बेकाबू के जैसे

 रायपुर, दुर्ग, बिलासपुर।

असल बात न्यूज़।। 

छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना का रूप  खतरनाक होता जा रहा है। कोरोना के संक्रमण से राज्य में आज चार लोगों की मौत हो गई है जिसमें से आधिकारिक जानकारी के अनुसार 2 लोगों की सिर्फ कोविड-19 के कारण ही मौत हुई है जबकि दो अन्य लोग किसी अन्य बीमारी से भी पीड़ित थे। इस तरह से समझा जा सकता है कि सिर्फ कोरोना के संक्रमण की वजह से ही मौतों का सिलसिला शुरू हो गया है। दूसरी बात यह भी है कि राज्य में नए संक्रमित लोगों की संख्या जिस तरह से चिंताजनक तरीके से बढ़ती जा रही है, उससे लग रहा है कि यहां हालात बेकाबू होते जा रहे हैं। कई जिलों में पॉजिटिविटी दर 10% से अधिक बढ़ गई है। अभी तक यह सोच कर मन में सांत्वना  थी कि कोविड-19 से अभी दूसरी लहर के जैसे मृत्यु नहीं हो रही है लेकिन आज जो अधिकारिक  आंकड़ा सामने आया हैं उसमें सिर्फ कोविड-19 की वजह से ही 2 मौत हो गई है। 

कुछ महीने पहले ही लोगों ने कोविड-19 की दूसरी लहर के खतरनाक रुप को देखा है। उससे दिलो-दिमाग में जो हलचल पैदा हुई है, जो दहशत बनी है, जो चिंता की लकीर खिच गई है वह लोगों के जेहन में अभी भी बनी हुई है और कोरोना की तीसरी लहर ने दस्तक दे दी है। जनवरी महीने के पहले एक-दो दिन यहां कोरोना के संक्रमितों की संख्या 500 से भी नीचे थी, उसके बाद से इसके संक्रमण के फैलाव का जो सिलसिला हुआ है वह लगातार बढ़ता ही जा रहा है। राजधानी रायपुर में पिछले 3 दिनों से लगातार एक हजार से अधिक नए संक्रमित मिल रहे हैं। बड़ी संख्या में छोटे बच्चे, युवा, महिलाएं, बुजुर्ग और शासकीय कर्मचारी संक्रमित होते जा रहे हैं। इसी के चलते हुए राज्य शासन ने आज मंत्रालय तथा विभागाध्यक्ष कार्यालयों में एक समय में एक तिहाई से अधिक कर्मचारियों के उपस्थित न रहने का आदेश जारी कर दिया है। रायपुर जिले में कोरोना से 3 लोग की मौत हो जाने के बाद लोगों की चिंता और बढ़ गई है। यहां के बिलासपुर, कोरबा, जांजगीर चांपा, जयपुर, दुर्ग और राजनांदगांव जिले में भी कोरोना के संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। बस्तर में भी corona के बड़ी संख्या में संक्रमित मिलने लगे हैं। 

कोविड-19 से राज्य में कैसे हालात बिगड़ते जा रहे हैं यह हम कुछ जिलों के आंकड़े से बताते हैं। राजनांदगांव जिले में 4 दिन पहले कोरोना के कुल एक्टिव केसेस की संख्या सिर्फ दो सौ अट्ठारह थी, 1 दिन पहले वहां सिर्फ 85 संक्रमित मिले थे आज उस जिले में राजनांदगांव जिले में 237 नए संक्रमित मिले हैं। एक ही दिन में इतनी बड़ी संख्या में नए संक्रमित मिले हैं और वहां कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या बढ़कर 652 हो गई है। बस्तर संभाग में कोरोना के संक्रमित ना के बराबर मिल रहे थे लेकिन आज अकेले बस्तर जिले में 54 नए संक्रमित मिले हैं और वहां कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या बढ़कर 100 हो गई है। 

आप बात करें राजधानी रायपुर की तो राजधानी रायपुर में कोरोना के एक्टिव केसेस की संख्या बढ़कर 4000 से ऊपर पहुंच गई है। यहां आज भी से 24 घंटे के दौरान 1 हजार 185 नए संक्रमित मिले हैं। इस जिले में कोरोना के संक्रमण से तीन लोगों की मौत हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान बिलासपुर जिले में 459, रायगढ़ जिले में 312, कोरबा जिले में 426, जांजगीर-चांपा में 207, जसपुर जिले में 167 नए संक्रमित मिले हैं।

इधर केंद्र सरकार के द्वारा स्पष्ट किया गया है कि छत्तीसगढ़ राज्य में विभिन्न स्रोतों से 122 पीएसए संयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं, जिनमें से 49 संयंत्रों को पीएम केयर्स के तहत स्थापित और चालू किया गया था। पीएसए संयंत्र के 1000 घंटे चलने के बाद, जिओलाइट, पीएसए संयंत्रों में मेडिकल ग्रेड ऑक्सीजन का उत्पादन करने के लिए उपयोग की जाने वाली एक शोषक सामग्री को प्रतिस्थापित करने की आवश्यकता है। उद्योग के मानदंडों के अनुसार, जिओलाइट का शेल्फ जीवन 3-5 वर्ष है और इस अवधि के बाद ही इसे बदला जाना है। इसके लिए छत्तीसगढ़ राज्य सरकार द्वारा धनराशि स्वीकृत की गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय भी नियमित साप्ताहिक समीक्षा कर रहा है और राज्यों / केंद्र शासित प्रदेशों से बार-बार आग्रह किया गया है कि वे अपने विभिन्न स्रोतों के माध्यम से स्थापित किए जा रहे पीएसए संयंत्रों की स्थापना और कमीशन को पूरा करें।

राज्य-सीएसआर

विदेशी सहायता

पीएसयू का

पीएम की परवाह

कुल योग

स्वीकृत

कमीशन

स्वीकृत

कमीशन

स्वीकृत

कमीशन

स्वीकृत

कमीशन

स्वीकृत

कमीशन

64

33

5

5

4

4

49

49

122

91

 

ये सभी PM CARES संयंत्र DRDO संयंत्रों के लिए 1 वर्ष की वारंटी, HLL इंफ्रा टेक सर्विसेज लिमिटेड (HITES)* के लिए 5 वर्ष और सेंट्रल मेडिकल सर्विसेज सोसाइटी (CMSS)* के लिए 10 वर्ष की मानक वारंटी के अंतर्गत आते हैं।

ओमिक्रॉन वेरिएंट की राज्यवार स्थिति

क्रमांक

राज्य

ओमाइक्रोन मामलों की संख्या

छुट्टी दे दी गई/पुनर्प्राप्त/प्रवासित

1

महाराष्ट्र

1,216

454

2

राजस्थान Rajasthan

529

305

3

दिल्ली

513

57

4

कर्नाटक

441

26

5

केरल

333

93

6

गुजरात

236

186

7

तमिलनाडु

185

185

8

हरयाणा

123

92

9

तेलंगाना

123

47

10

उतार प्रदेश

113

6

1 1

उड़ीसा

74

8

12

आंध्र प्रदेश

28

9

13

पंजाब

27

16

14

पश्चिम बंगाल

27

10

15

गोवा

19

19

16

मध्य प्रदेश

10

10

17

असम

9

9

18

उत्तराखंड

8

5

19

मेघालय

4

3

20

अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह

3

0

21

चंडीगढ़

3

3

22

जम्मू और कश्मीर (यूटी)

3

3

23

पुदुचेरी

2

2

24

छत्तीसगढ

1

1

25

हिमाचल प्रदेश

1

1

26

लद्दाख

1

1

27

मणिपुर

1

1

 

कुल

4,033

1,552


असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय 

अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता