निर्मल कोसरे महापौर और कृष्णा चंद्राकर भिलाई 3 चरोदा नगर निगम के सभापति निर्वाचित

 

निर्मल कोसरे महापौर और कृष्णा चंद्राकर भिलाई 3 चरोदा नगर निगम के सभापति निर्वाचित

भिलाई चरोदा।

असल बात न्यूज़।। 

भिलाई 3 चरोदा नगर निगम के कांग्रेस के निर्मल कोसरे महापौर निर्वाचित हो गए हैं। यहां महापौर पद पर निर्वाचन के लिए कांग्रेस के पास स्पष्ट बहुमत नहीं था, निर्दलीय नवनिर्वाचित पार्षदों के समर्थन से कांग्रेस ने यहां अपना महापौर बनाने मे सफलता पाई है। कांग्रेस ने अपना सभापति भी बनवा लिया है। कृष्णा चंद्राकर सभापति निर्वाचित हुए हैं।

अधिकृत सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार कांग्रेश के महापौर पद के प्रत्याशी और सभापति पद के प्रत्याशी को 24-24 वोट मिले हैं जबकि उनके मुकाबले में भाजपा के प्रत्याशियों को सिर्फ 16 सोलह वोट ही मिल सके हैं। भाजपा ने महापौर पद के लिए श्रीमती नंदनी जांगड़े को अपना प्रत्याशी बनाया था तथा  सभापति पद के लिए चंद्र प्रकाश पांडेय को चुनाव मैदान में उतारा था।इस तरह से देखा जाए तो यहां निर्दलीयों ने पूरी तरह से सत्ताधारी दल कांग्रेस को समर्थन दिया है।वे सभी कांग्रेस के पक्ष में आए हैं। वैसे काफी पहले से ही यह अनुमान लगाया जा रहा था कि चुनाव परिणाम ऐसे ही आ सकते हैं।

यहां महापौर और सभापति पद का निर्वाचन मतदान के बाद संपन्न हो सका। मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस और भाजपा ने  भी यहां दोनों पदों के लिए अपने प्रत्याशियों को चुनाव मैदान में उतारा। शुरू में ऐसा लग रहा था कि भाजपा यहां कोई करिश्मा दिखाने की कोशिश कर सकती है। लेकिन धीरे-धीरे सब कुछ स्पष्ट हो गया। अत्यंत शांतिपूर्ण माहौल में मतदान और मतगणना की पूरी कार्रवाई संपन्न हुई और चुनाव परिणाम घोषित किए गए।

इस बीच निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान निर्वाचन स्थल पर दोनों मुख्य राजनीतिक दलों के वरिष्ठ नेताओं के पहुंचने की उम्मीद की जा रही थी। लेकिन चुनाव परिणाम घोषित होते तक कोई भी वरिष्ठ नेता यहां नहीं पहुंचा।

इस चुनाव में कई दिलचस्प बातें सामने आई हैं। कांग्रेस के भी कई ऐसे प्रत्याशी यहां चुनाव हार गए जो कि काफी पहले से इस चुनाव की तैयारी कर रहे थे। इसके बाद कांग्रेस के ही लोगों के द्वारा  अपने ही लोगों पर हार की साजिश करने का आरोप लगाए जा रहे हैं। ऐसे में कांग्रेस में व्याप्त कथित आपसी खींचातानी और गुटबाजी सतह पर आती नजर आई है। कहा जा रहा है कि जब वहां पर महापौर और सभापति पद के लिए समझौता हो गया तब नया समीकरण बनने की बात सामने आ रही है। यहां यह  उल्लेखनीय है कि भाजपा  कोई मौका छोड़ने के लिए तैयार नहीं थी और हर मौके का फायदा उठाने की कोशिश में लगी हुई थी, लेकिन निर्दलीय नव निर्वाचित प्रत्याशियों ने जिस तरह से कांग्रेस को एकतरफा समर्थन दिया है उसके बाद भाजपा को कोई मौका नहीं मिल सका। कांग्रेश नगर निगम भिलाई चरोदा में 20 वर्षों के बाद सत्ता में आ चुकी है। निर्मल कोसरे इस नगर निगम के दूसरे महापौर होंगे।








.


स्थानीय निकाय के चुनाव पर प्रदेशभर से लगातार विशेष रिपोर्ट


असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय 

अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता

................................

...................................