दुर्ग जिले में corona की पॉजिटिविटी दर 30% पर पहुंच गई, अच्छी बात कि मृत्यु नहीं

 दुर्ग।

असल बात न्यूज़।। 

दुर्ग जिले में कोरोना की पॉजिटिविटी रेट भयावह  तरीके से बढ़ती जा रही है। यहां कोरोना के संक्रमण का फैलाव हर दिन बढ़ता जा रहा है।  जिले में आज 922 नए संक्रमित मिले हैं। गंभीर बात है कि इस जिले में पॉजिटिविटी  रेट लगातार बढ़ती जा रही है। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार आज 3308 लोगों की जांच की गई जिसमें 922 नए संक्रमित मिले हैं। राज्य सरकार ने अधिक संक्रमित वाले क्षेत्रों को अलग वर्ग में विभाजित करने का सुझाव दिया है।इस पर निर्णय जिले के कलेक्टर्स को लेना है। 10% से अधिक पॉजिटिविटी रेट वाले क्षेत्रों में लॉक डाउन करने का प्रावधान है लेकिन इस बारे में जिले के कलेक्टर  निर्णय लेंगे।

जिला प्रशासन के द्वारा दुर्ग जिले में कोरोना के लगातार बढ़ते हुए मामले को देखते हुए इसकी रोकथाम के लिए रात में 9:00 बजे से सुबह 6:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा दिया गया है। जिला प्रशासन के द्वारा अपने स्तर पर तो कार्रवाई की गई है वहीं आम लोग स्वयं होकर अपने घरों से कम निकल रहे हैं। व्यवसायिक क्षेत्रों में भीड़भाड़ काफी कम दिखने लगी है। कई व्यवसायिक क्षेत्रों जहां अक्सर जाम लगने की स्थिति बनी रहती हैं वहां  लोगों के घरों से कम निकलने की वजह से भीड़ कम रहने लगी है और जाम लगता नजर नहीं आता। ऐसे कई क्षेत्रों में दिनभर सड़के सूनी सूनी से रहने लगी हैं। 

जिले में कोरोना की पॉजिटिविटी दर जिस तेजी से बढ़ती जा रही है उससे लोगों में चिंता बढ़ती जा रही है। 

कोरोना के संक्रमण के फैलाव की दर लगातार बढ़ती जा रही है। सब कुछ उपाय किये जा रहे हैं लेकिन लग रहा है कि कोरोना के संक्रमण का फैलाव थम नहीं रहा है नियंत्रित नहीं हो पा रहा है। हर दिन नए संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। इससे लग रहा है कि कहीं ना कहीं कुछ कमी जरूर है जो उपाय किए जा रहे हैं उसमें कुछ कमी रह जा रही है। दूसरी बात कुछ ही दिनों के बाद यूनिवर्सिटी की परीक्षाएं शुरू होने जा रही हैं। इससे भी अभिभावकों की चिंताएं बढ़ गई हैं। जो आंकड़े सामने आ रहे हैं उसमें छात्र युवा वर्ग भी बड़ी संख्या में संक्रमित मिल रहे हैं। छात्रों और अभिभावकों का ऐसे हालात में कहना है कि यह चिंताजनक स्थिति है। ऑफलाइन परीक्षा आयोजित करने से महाविद्यालयों में एक ही दिन में भारी भीड़ जमा होगी और इससे संक्रमण के फैलाव का खतरा काफी बढ़ सकता है। जो पूरे जिले में अभी भी काफी बढ़ गया है। यूनिवर्सिटी प्रशासन को परीक्षा के आयोजन के तरीके पर पुनर्विचार करना चाहिए।

असल बात न्यूज़

सबसे तेज, सबसे विश्वसनीय 

अपने आसपास की खबरों के लिए हम से जुड़े रहे , यहां एक क्लिक से हमसे जुड़ सकते हैं आप

https://chat.whatsapp.com/KeDmh31JN8oExuONg4QT8E

...............

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता