जानिए अपने प्रत्याशियों को, रिसाली मरोदा सेक्टर पूर्व वार्ड क्रमांक 11

 00  वरिष्ठ जनों और महिलाओं की बड़ी टीम हो रही हैं लामबंद 

00 वर्षों से कई समस्याएं बनी हुई हैं जिससे है नागरिकों में है आक्रोश

00 आवारा पशु भी बन गए हैं वार्ड में बड़ी समस्या 

00 राजनीतिक पार्टियों के प्रभाव से भी मतदाता प्रभावित 

भिलाई।

असल बात न्यूज़।। 

नगर निगम रिसाली के अंतर्गत आने वाले वार्ड क्रमांक 11 मरोदा सेक्टर पूर्व में 90% से अधिक आबादी भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारियों की है, लेकिन यह आज भी कई समस्याओं से जूझ रहा है। आवारा पशु भी इस वार्ड में बड़ी समस्या बन गया है। स्थानीय रहवासी यहां अपने घरों में शौक से गार्डिंग करते हैं फूल पौधों के पेड़ लगाते हैं जिन्हें आवारा सुअर अचानक हमला कर नष्ट कर देते हैं।  ऐसे नुकसान से उस घर के लोगों को कितनी पीड़ा होती है यह आसानी से समझा जा सकता है। क्षेत्र को भले ही सफाई के लिए पुरस्कार मिलता रहा हो लेकिन सच्चाई यह है कि यहां वार्ड में साफ-सफाई का अभाव  अभी भी बड़ी समस्या बनी हुई है। 

मरोदा सेक्टर पूर्व वार्ड क्रमांक 11 में भी अब चुनाव प्रचार युद्ध स्तर पर शुरू हो गया है। सभी प्रत्याशी मतदाताओं को अपनी ओर रिझाने की कोशिश में लगे हुए हैं। चुनाव प्रचार में कोई भी प्रत्याशी पीछे नहीं रहना चाहता। प्रत्येक प्रत्याशियों के द्वारा यहां मतदाताओं को रिझाने बढ़-चढ़कर दावे और वादे किए जा रहे हैं। वार्ड मे शिक्षित वर्ग के लोगों की संख्या बहुत अधिक है  और कहा जा रहा है कि यहां  मतदाता, चुनाव प्रचार से बहुत अधिक प्रभावित होने वाले नहीं हैं। यहां कुल दो प्रत्याशी ही चुनाव मैदान में हैं और जैसा दिख रहा है उसके अनुसार यहां कड़े मुकाबले की स्थिति है। कांग्रेस ने यहां केशव बंछोर को चुनाव मैदान में उतारा है तो वहीं भाजपा के प्रत्याशी  उजियार सिंह पवार हैं। दोनों प्रत्याशी तथा उनके समर्थकों और कार्यकर्ताओं की बड़ी टीम चुनाव प्रचार में लगी हुई है।

वार्ड के निवासियों का कहना है कि झूठे विकास की बात से अब वोट नहीं मिलने वाला। अब ऐसा नहीं होता की 10 दिन पहले विकास के नाम पर कुछ काम करवा दो और वोट हासिल कर लो। बाकी 5 साल वार्ड में चाहे कोई काम हो चाहे अथवा ना हो। हमारे वार्ड में कई सारी समस्याएं हैं। गंदगी बड़ी समस्या बन गई है कभी किसी ने इसकी और ध्यान नहीं दिया। भिलाई इस्पात संयंत्र के क्वार्टर में निवासरत लोगों का कहना है आवारा सूअर सभी यहां के निवासी बुरी तरह परेशान है। हम गार्डनिंग करते हैं और उसे आवारा सुअर खोद कर बर्बाद कर देते हैं।

वार्ड के लोगों का कहना है कि वार्ड में गंदगी भी समस्या है। साफ-सफाई कभी नहीं होती। नालियां जाम पड़ी हुई हैं। बारिश के पानी की निकासी नहीं होती। गाजर घास से यहां बीमारियां फैल रही हैं। आवारा पशुओं ने तो चारों तरफ आतंक मचा रखा है।

इस वार्ड से भाजपा के प्रत्याशी उजियार सिंह पवार का कहना है कि वे वार्ड की समस्याओं को जानते हैं। स्थानीय निवासियों की बात होती है लोग जिस तरह की परेशानी से जूझ रहे हैं ईमानदारी से पहल की जाय तो उसका निराकरण किया जा सकता है। वे वरिष्ठ नागरिक मंच मरोदा, भगवान श्री त्रंबकेश्वर मंदिर प्रबंधन मंच, आदर्श संस्कृतिक क्रीड़ा मंडल मरोदा से जुड़े हुए हैं  जिस की वजह से भी  लोग उनसे मिलते हैं। अपनी परेशानियां बताते रहे हैं। वे जिस संस्थाओं के माध्यम से जुड़े हैं उन के माध्यम से छत्तीसगढ़ की संस्कृति के संरक्षण और संविधान के लिए बैल दौड़, पोला, तीजा दशहरा  जैसे कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता रहा है। उनका कहना है कि बीएसपी प्रबंधन के द्वारा अपनी कालोनियों में विकास  काम किया किया जाता रहा है लेकिन नगर निगम प्रशासन ने इस वार्ड की उपेक्षा की है जिससे लोगों में आक्रोश व्याप्त है।

भाजपा प्रत्याशी श्री पवार के समर्थन में सर्व श्री मंगेश वाते, नीरज डोंगरे, आरके प्रसाद, डीएच सिंह, बी डी बांधे, पी एल पाठे सहित बड़ी संख्या में महिलाएं चुनाव प्रचार करने निकल रही हैं और उन्हें जीत दिलाने के लिए वोट मांग रही हैं। फिलहाल चुनाव प्रचार को अभी बहुत दिन शेष है और कोई भी प्रत्याशी चुनाव प्रचार में पीछे रहता नजर नहीं आ रहा है। मतदाता भी पूरे चुनाव प्रचार पर नजर रखे हुए हैं।