निर्वाचन पूरी पारदर्शिता, निष्पक्षता और कोविड प्रोटोकाल का पालन सुनिश्चित करते हुए संपन्न कराने का निर्देश

 

0 निर्वाचन आयुक्त श्री ठाकुर राम सिंह ने भिलाई निगम में ली निर्वाचन अधिकारियों की बैठक

 0 कोविड मरीज को भी उसके मताधिकार का पूरा उपयोग करने दिया जाएगा 

दुर्ग ।

असल बात न्यूज़।। 

राज्य निर्वाचन आयुक्त ठाकुर राम सिंह ने स्थानीय निकाय के चुनाव की ड्यूटी में लगे अधिकारियों को यह चुनाव  पूरी पारदर्शिता और निष्पक्षता के साथ कोविड-19 की गाइडलाइन का पालन करते हुए संपन्न कराने का निर्देश दिया है। श्री सिंह ने भिलाई नगर निगम के कक्ष में इस चुनाव से जुड़े निर्वाचन अधिकारियों की बैठक ली।

 बैठक में श्री सिंह ने निर्वाचन अधिकारियों को  निर्देश देते हुए  कहा कि निष्पक्षता और पारदर्शिता के साथ निर्वाचन संपन्न करने के लिए जो भी संभव उपाय हैं वे किये जाएं। आयोग के निर्देशों के मुताबिक मतगणना स्थल पर सीसीटीवी कैमरा आदि की व्यवस्था सुनिश्चित होनी चाहिए। बैठक में प्रेक्षक भिलाई श्री पी. दयानंद, प्रेक्षक रिसाली श्री राजेश सुकमार टोप्पो, प्रेक्षक नगर निगम भिलाई चरौदा श्री अवनीश शरण तथा प्रेक्षक जामुल श्री नरेंद्र कुमार दुग्गा, कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे, एसएसपी श्री बद्रीनारायण मीणा, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री खेमलाल वर्मा, आरओ रिसाली श्रीमती नूपुर राशि पन्ना, आरओ भिलाई श्रीमती पदमिनी भोई, आरओ भिलाई चरौदा श्री विपुल गुप्ता, आरओ जामुल श्री जागेश्वर कौशल सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। 

*पोलिंग एजेंट का वैक्सीनेशन जरूरी-* आयुक्त ने कहा कि कोविड प्रोटोकाल का पालन बेहद जरूरी है। सभी पोलिंग एजेंट का वैक्सीनेशन जरूरी है। इसके अलावा मतदान के कार्य में लगे अन्य लोगों का वैक्सीनेशन भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि मताधिकार सबके लिए है। यदि कोई कोविड मरीज भी मतदान डालना चाहता है तो उसे मतदान करने दिया जाएगा। इसकी वजह से अन्य मतदाताओं को कोई असुविधा न हो, इसके लिए प्रशासन इनसे समन्वय कर कोविड मरीज के मतदान का समय नियत कर देगा। कोविड मरीज को पीपीई किट आदि पहन कर ही मतदान करना होगा। कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने बताया कि कोविड प्रोटोकाल का विशेष ध्यान रखा गया है। मतदान दलों को जो किट दिये जाएंगे, उसमें भी सैनिटाइजर दिया जाएगा। इसके अलावा मतदान केंद्रों में भी सैनिटाइजेशन की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

*अनुमति पर निर्णय निर्धारित समयावधि में करें, बिना अनुमति जुलूस-रैली पर प्रत्याशियों को जारी करें नोटिस-* आयुक्त ने कहा कि रिटर्निंग आफिसर प्रत्याशियों को जुलूस रैली आदि की अनुमति के आवेदन पर निर्णय समयावधि में दें। बिना अनुमति जुलूस रैली आदि पर प्रत्याशियों को नोटिस जारी करें। उन्होंने कहा कि जिन प्रत्याशियों द्वारा व्यय की नियमित जानकारी नहीं दी जा रही है उन पर भी नियमानुसार कार्रवाई करें।

*औद्योगिक श्रमिकों को भी मिले मतदान के लिए समय-* आयुक्त ने कहा कि औद्योगिक श्रमिकों को भी मतदान के लिए समय मिल सके। इसके लिए आयोग ने निर्देश दिये हैं। इस संबंध में नियोक्ताओं से भी चर्चा कर ली जाए ताकि हर कोई अपने मताधिकार का प्रयोग सहजता से कर सके। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्रियल एरिया होने की वजह से इस संबंध में विशेष रूप से ध्यान रखने की जरूरत है कि औद्योगिक श्रमिकों को मतदान के लिए वक्त मिल पाए।

*हेल्थ स्टाफ भी रहेगा मौजूद-* आयुक्त ने कहा कि मतदान और मतगणना के लिए आवश्यक सुरक्षा प्रबंधों के साथ ही हेल्थ स्टाफ की नियुक्ति भी सुनिश्चित करें। मतदान दलों के प्रशिक्षण में एवं राजनीतिक दलों की बैठक में कोविड प्रोटोकाल के संबंध में जरूर बताएं।