अब छत्तीसगढ़ महतारी को सजाने संवारने का काम मिलजुलकर करना है: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल

00 अहिवारा क्षेत्र के विधायक और राज्य के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी ग्रामोद्योग मंत्री गुरु रुद्र कुमार ने जामुल और भिलाई 3 में कहा, मुख्यमंत्री जी से जो मांगा वे सब विकास कार्य, क्षेत्र को मिले हैं, आगे भी विकास कार्य में कोई कमी नहीं आएगी 

00 स्थानीय निकाय के चुनाव के पहले दुर्ग जिले के नगर पालिका और नगर निगम क्षेत्र को बड़ी सौगात 

00 भिलाई 3 का मिनी स्टेडियम बनेगा सर्व सुविधा युक्त स्टेडियम ,₹10 करोड़ रुपए की राशि स्वीकृत


 भिलाई, दुर्ग ।

असल बात न्यूज़।।

प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि प्रदेश में नई सरकार बनने के बाद पिछले तीन वर्षों में छत्तीसगढ़ की जनता को महसूस हुआ है कि  प्रदेश में अब उनकी सरकार है और वह सरकार उनके लिए काम कर रही है।  हम सबको इससे आगे बढ़ते हुए अब मिलजुल कर छत्तीसगढ़ महतारी को सजाने संवारने का काम  करना है। मुख्यमंत्री श्री बघेल  आज यहां जिले के विभिन्न क्षेत्रों में विभिन्न विकास कार्यों के भूमिपूजन और लोकार्पण समारोह में शामिल हुए और उन्होंने इस दौरान जनसभाओ को संबोधित करते हुए उक्त आशय की बातें कहीं। उन्होंने इस दौरान जामुन नगर पालिका क्षेत्र और भिलाई 3,चरोदा नगर पालिका क्षेत्र को  विभिन्न विकास कार्यों की सौगात भी दी है।

दुर्ग जिले के भिलाई नगर निगम, नगर निगम भिलाई चरोदा, नगर निगम रिसाली और नगर पालिका जामुल में स्थानीय निकाय के चुनाव होने वाले हैं,।इन स्थानीय निकाय के चुनाव के लिए शीघ्र ही अधिसूचना जारी होने वाली है। इसके पहले राज्य के मुख्यमंत्री और तमाम वरिष्ठ मंत्री इन स्थानीय निकाय  क्षेत्र में पहुंचे हैं और उन्होंने यहां जनसभाएं ली है। स्वाभाविक है कि इन जनसभाओं के अवसर पर पद यात्रा रैली में आम लोगों कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ जुटी। जनसभाओ में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने इन क्षेत्रों के विकास के लिए करोड़ों रुपए के विकास कार्यों की सौगात भी दी है। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने इस दौरान भिलाई 3 , चरौदा में 10 करोड़ की राशि से यहां स्टेडियम बनाने, उसमें स्टैंड बनाने, जनता स्कूल में निर्मित स्वामी आत्मानंद इंग्लिश माध्यमिक स्कूल में कक्षा में सीट बढ़ाने, सिरसा गेट चौक के सौंदर्यीकरण, तथा पार्षदों के द्वारा मांग किए गए विभिन्न कार्यों को स्वीकृत करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1993 में उन्होंने पहली बार विधानसभा चुनाव में जीत दर्ज की। उस जीत में भिलाई 3 चरोदा क्षेत्र का बड़ा महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उस चुनाव में उन्होंने इस क्षेत्र से बड़ी जीत हासिल की थी। उनके राजनीति की शुरुआत इसी क्षेत्र से हुई है और राजनीतिक पहचान भी यहीं से मिली है।

मंत्री श्री बघेल ने कहा कि वास्तव में हमारे  कार्यकाल का पहला साल चुनाव चुनाव में बीत गया। इसके बाद हमें पूर्णा जैसी वैश्विक महामारी का सामना करना पड़ा जिसने हमारे सामने कई चुनौतियां पैदा की। उन्होंने कहा कि इस दौरान दुर्ग जिले के वॉलिंटियर्स ने जिस तरह से साहस और निर्भीकता से कोरोना महामारी का मुकाबला किया और इसे नियंत्रित किया था उस में जीत हासिल की इसके लिए हमें उन सभी कोरोना फ्रंटलाइट वर्कर पर गर्व है। उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि राज्य में युवा महिला किसानों मजदूरों सभी के हित के लिए योजना तैयार की जा रही हैं। किसानों को राजीव गांधी न्याय योजना के तहत प्रति एकड़ ₹9000 देने की योजना बनाई गई है तो वही भूमिहीन मजदूरों को ₹6000 प्रति साल दिया जाएगा। युवाओं को विभिन्न क्षेत्रों में रोजगार दिलाने के प्रयास किए जा रहे हैं। युवाओं के लिए राजीव मितान क्लब भी बनाया जा रहा है जिस से जुड़कर युवा अपने क्षेत्र में विकास कार्यो के लिए योजनाएं बना सकेंगे। उन्होंने कहा कि गोधन या योजना ने प्रदेश में बड़ी सफलताएं हासिल की है और इसकी चर्चा हर जगह हो रही है। कई राज्य हमारे इस मॉडल को अपने राज्यों में लागू कर रहे हैं। वर्मी कंपोस्ट आज किसानों की बड़ी- जरूरत बन गई है और हम गोबर से बिजली भी बना रहे हैं। उन्होंने कहा कि पिछले 3 वर्षों में छत्तीसगढ़ राज्य की संस्कृति, छत्तीसगढ़ के तीज त्यौहार, छत्तीसगढ़ की परंपराओं को नई पहचान और नई ऊंचाइयां मिली है। अब हम सबको मिलकर छत्तीसगढ़ महतारी को सजाने संवारने का काम करना है।

इसके पहले इस क्षेत्र के विधायक, राज्य के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरु रुद्र कुमार ने अपने उद्बोधन में कहा कि पिछले 3 वर्षों में अहिवारा विधानसभा क्षेत्र में वे सब  काम हुए हैं जोकि यहां कभी नहीं हुए। अहिवारा विधानसभा क्षेत्र में bhilai-3  और अहिवारा को पूर्ण तहसील का दर्जा दिया गया। छोटे समय के अंतराल में पूर्ण तहसील का दर्जा इन क्षेत्रों को दिया गया। तहसील नहीं थी, तब यहां के लोगों को किस तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता था या हम सब समझते हैं।इन क्षेत्र के लोगों को अपने काम के लिए पाटन और दुर्ग भटकना पड़ता था। अब यह समस्याएं खत्म हो गई हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी से इस क्षेत्र में जो भी विकास कार्य मांगे हैं वह सारे कार्य यहां स्वीकृत हुए, इससे आम लोगों की कई समस्याओं का निराकरण हो सका है। उन्होंने कोरोना संकट की दिक्कतों का जिक्र करते हुए कहा कि उस समय कई राज्य और वहां की आम जनता आर्थिक दिक्कतों से जूझ रही थी लेकिन छत्तीसगढ़ में जिस तरह से प्रयास किए गए उससे किसानों और आम लोगों की जेब में सीधे पैसा पहुंचा, इससे आम जनता को उन कठिन परिस्थिति में भी दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ा। उन्होंने आम लोगों से स्थानीय निकाय के चुनाव में कांग्रेस को फिर से जीत दिलाने की अपील की ताकि क्षेत्र में विकास के कार्य तेज गति से हो सके।

कार्यक्रम में मंच पर जिले के प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉक्टर शिव डहरिया,भी उपस्थित थे। अतिथियों ने प्रारंभ में विभिन्न विकास कार्यों का भूमि पूजन तथा लोकार्पण, पौनी पसारी से जुड़े लोगों को पट्टा वितरण, जरूरतमंदों को साइकिल वितरण किया।

इस अवसर पर जिले के कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर नरेंद्र भूरे ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम में सर्वश्री संतोष तिवारी ,विजय जैन, मनोज मधरिया, निगमायुक्त कीर्तिमान राठौर, राजेश डांडेकर, कृष्णा चंद्राकर ,सुजीत बघेल, विकास चौधरी, विमल मानकर, बलराम कुंती लहरें, आशीष वर्मा, संतोष महानंद, किरण नायक, सविता, अशोक डोंगरे, ज्योति महिलांग, दुलारी वर्मा, राजकुमार मंडावी, सेवक चंद्राकर, तपन सान्याल, हेमंत ठाकुर, संजय साहू, रानी वर्मा, लता डेहरिया, सहित बड़ी संख्या में पार्षद गण एल्डरमैन, कांग्रेस के कार्यकर्ता उपस्थित थे जिन्होंने अतिथियों का स्वागत भी किया।


भिलाई तीन ,चरौदा के कार्यक्रम के पूर्व मुख्यमंत्री  भूपेश बघेल ने आज जामुल नगरीय निकायों में आयोजित कार्यक्रम में सात करोड़ रुपए राशि के विकास कार्यों का किया लोकार्पण एवं भूमिपूजन किया।जामुल निकाय में 7 करोड़ रुपये की राशि के कार्यों के लोकार्पण एवं भूमिपूजन के मौके पर अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार की दूरदर्शी नीतियों की वजह से आज खेती किसानी बेहतर स्थिति में है। उन्होंने कहा कि देशभर में डीएपी का संकट है और अगले साल भी संकट के कम होने के आसार नहीं हैं, डीएपी के मूल्यों के और बढ़ने की आशंका भी है। इस लिहाज से देखें तो छत्तीसगढ़ में गोधन न्याय योजना के माध्यम से जिस तरह से कंपोस्ट खाद का निर्माण किया जा रहा है उससे जैविक खाद के रूप में विकल्प किसानों को प्राप्त हुआ है। इस विकल्प से मिट्टी की उर्वरता सुरक्षित होगी और साथ ही किसान बेहतर उत्पादन भी प्राप्त करेगें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश में जिस तरह से डीएपी की किल्लत बनी हुई है उसे देखकर यह स्पष्ट है कि छत्तीसगढ़ में वर्मी कंपोस्ट के उत्पादन को लेकर जो नीति बनाई गई है, वह बहुत कारगर और किसानों के हित में है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से हम कृषकों को उनके उत्पादन का उचित मूल्य दे रहे हैं। सरकार ने भूमिहीन मजदूरों का भी ध्यान रखते हुए, उनके लिए भी प्रतिवर्ष 6000 रुपये देने की योजना सुनिश्चित की है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर किसानों से अरवा धान लेने की अपील की। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने अरवा धान लेने का ही निश्चय किया है इसलिए मैं किसानों को अरवा धान बोने की सलाह देता हूं। मुख्यमंत्री ने जामुल के विकास के लिए घोषणाएं भी की। उन्होंने यहां स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल खोलने  और शासकीय स्कूल में डोम के निर्माण की भी घोषणा की। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने 4 वार्डों में विद्युत खंभों की घोषणा भी की। साथ ही राजीव नगर रेलवे क्रॉसिंग के पास सीसी रोड की घोषणा तथा 4 तालाबों के सौंदर्यीकरण की भी घोषणा की। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि शासकीय सेवाओं में भी रोजगार के अधिकतम द्वार शासन द्वारा आरंभ किए गए हैं उन्होंने कहा कि जामुल क्षेत्र के विकास के लिए किसी तरह की राशि की कमी नहीं होने दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि इन विकास कार्यों में सुरडुंग जलाशय की रिमाॅडलिंग का भूमिपूजन भी शामिल है। इस मौके पर अपने संबोधन में जिले के प्रभारी मंत्री श्री मोहम्मद अकबर ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ सरकार की नीतियां किसानों तथा सभी वर्गों के लिए उपयोगी रही है। कर्जमाफी तथा राजीव गांधी न्याय योजना के माध्यम से उन्होंने किसानों के हितों को आगे बढ़ाया। इस मौके पर अपने संबोधन में नगरीय प्रशासन मंत्री श्री शिव डहरिया ने कहा कि प्रदेश में नगरीय अधोसंरचना के क्षेत्र में अनेक विकास कार्य हुए हैं। स्वच्छता के क्षेत्र में बहुत से कार्य हुए हैं जिसकी वजह से प्रदेश को अनेक पुरस्कार मिले हैं। इस मौके पर अपने संबोधन में पीएचई मंत्री श्री गुरु रुद्र कुमार ने कहा कि जामुल क्षेत्र की जनता की आवश्यकताओं को मुख्यमंत्री हमेशा ध्यान रखते हैं तथा यहां के विकास कार्यों के लिए उन्होंने लगातार राशि प्रदान की है। उन्होंने कहा कि जामुल-नंदिनी-अहिवारा सड़क का काम भी शीघ्र ही प्रारंभ होगा।

इस अवसर पर कलेक्टर डाॅ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने मुख्यमंत्री को प्रतिवेदन भी दिया।

 मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर हितग्राही मूलक योजनाओं की सहायता राशि का वितरण किया। श्रम विभाग के हितग्राहियों को उन्होंने चेक का वितरण किया। इसके अलावा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को यूनिफॉर्म प्रदान किया गया। आंगनबाड़ियों के लिए प्री-स्कूल किट भी मुख्यमंत्री ने प्रदान किया। मत्स्य पालकों को उन्होंने मछली बीज तथा किट प्रदान किया। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर हितग्राहियों को पट्टा वितरित भी किया।