अहिवारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम रवेलीडीह को सामुदायिक भवन सहित ढेर सारे विकास कार्यों की सौगात, मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने किया इन विकास कार्यों का लोकार्पण

 *पीएचई मंत्री पहुंचे रवेलीडीह, सामुदायिक भवन सहित 46 लाख रुपए के अन्य निर्माण कार्यों का किया लोकार्पण-भूमिपूजन

*- कहा सामुदायिक भवन बनने से लोगों को होगी सुविधा,   विकास कार्यों को तेजी से आगे बढ़ाने की दिशा में किया जा रहा कार्य

दुर्ग।

असल बात न्यूज।।

अहिवारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम रवेलीडीह को सामुदायिक भवन सहित ढेर सारे विकास कार्यों की सौगात मिली है। लोक निर्माण विभाग के मंत्री गुरु रूद्र कुमार ने आज इन विकास कार्यों का लोकार्पण किया। इस अवसर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने की दिशा में लगातार प्राथमिकतापूर्वक काम कर रही है।

 पीएचई मंत्री श्री गुरु रुद्र कुमार ने इस अवसर पर अपने उद्बोधन में कहा कि सामुदायिक भवन बनने से लोगों को काफी सुविधा होगी। ग्रामीणजनों से जिस तरह के भी कामों के प्रस्ताव मिल रहे हैं उस पर काम हो रहा है। सबको साफ पेयजल उपलब्ध कराने की दिशा में बड़ा काम हो रहा है।  

उन्होंने कहा कि नरवा, गरुवा, घुरूवा, बाड़ी योजना  से ग्रामीण विकास को मजबूत बनाने का काम किया जा रहा है और इससे किसानों की आय बढ़ाने की कोशिश की गई है। इस मौके पर उन्होंने, ग्रामीणों की माँग पर मिनीमाता व्यावसायिक परिसर, डबरी तालाब में निर्मला घाट, मुस्लिम कब्रिस्तान में शेड निर्माण की घोषणा भी की।

 उन्होंने ग्राम अकोला में पुन्नी मेला में भी हिस्सा लिया। इस मौके पर ग्रामीणों से चर्चा में मंत्री ने कहा कि पुन्नी मेला हमारी संस्कृति के सबसे अभिन्न और सुंदर हिस्सा है।  यह उत्सव की परंपरा हमारे जीवन को समृद्ध करती है।  दीवाली के पश्चात होने वाले इस आयोजन में खुशी भी स्वाभाविक होती है। लोग बाजार से खरीदारी करते हैं। मंत्री ने कहा कि हमारे पर्व-त्योहार हमारे जीवन को समृद्ध करते हैं। हमने छत्तीसगढ़ी परंपरा को सहेजने की दिशा में बड़ा निर्णय लेते हुए तीज त्योहारों में, हरेली में अवकाश दिया। इस बार छेरछेरा में भी अवकाश होगा। 






..

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता

................................

...................................