न्याय नहीं मिला तो हाई कोर्ट जाएंगे जिले के भारतमाला परियोजना से पीड़ित किसान

 

दुर्ग।

असल बात न्यूज।।

भारत माला परियोजना के लिए ली गई जमीन का समुचित मुआवजा नहीं मिलने से पीड़ित, जिले के किसान, सरकार से न्याय नहीं मिलने पर हाईकोर्ट जाएंगे।इन किसानों के द्वारा उक्त परियोजना के लिए ली गई जमीन से प्रभावित सभी किसानों को एक समान मुआवजा देने की मांग की जा रही है।

यहां ग्राम धनोरा के साहू कर्मा भवन पर भारतमाला परियोजना से पीड़ित किसानों की बैठक हुई जिसमें 12 गांव के लगभग 60किसानों की उपस्थिति रही। जिसमें ग्राम हनोदा से टीकम चंद्राकर  मंथीर मिर्चें,शांति लाल मिरचे, धनोरा से गौकरण साहु मनोज साहू नंदकुमार साहू, दीपक साहू घनश्याम साहू ग्राम खम्हारिया से वीरेंद्र चतुर्वेदी ,सोमेश साहू ग्राम पुरई से भानु साहू , चंद्रशेखर, डोमार साहु उमरपोटी से पोषण लाल यादव थनौद से राजेंद्र हरमुख सहित बड़ी संख्या में किसान उपस्थित थे। बैठक में सभी गांव के मुख्य किसानों ने अपनी-अपनी बात रखी।  किसानों के लिए यह मीटिंग बहुत ही सार्थक बताई जा रही है। यहां के ऊपर से उसके सामने आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि   शासन प्रशासन और नेताओं के प्रति काफी रोष जताते हुए कहा कि आसमान मुआवजा देने का काम जानबूझकर किया गया है। 

 बैठक में बहुत जल्द एक बहुत बड़ा प्रेस कॉन्फ्रेंस करने, समस्या के हल के लिए 12 गावों से तीन से चार जिम्मेदार व्यक्ति नियुक्त करने,संगठन को मजबूत करने और सुचारू रुप से चलाने के लिए एक फंड बनाने तथा समस्या का सरकार के स्तर पर हल न निकलने पर  हाईकोर्ट में केस याचिका दायर करने की पूरी तैयारी भी करने का निर्णय लिया गया।

जो प्रभावित किसान इस मामले  अभी तक दावा आपत्ति नहीं कर पाए हैं उन्हें पता कर, उन्हें दावा आपत्ति लगाने के लिए कहने और उन्हें संगठन में जोड़ने का निर्णय लिया गया।