उच्च प्राथमिकता के कार्यक्रमों की नियमित मॉनिटरिंग के निर्देश,,जिला शिक्षा अधिकारियों की राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक

 

रायपुर  ।

असल बात न्यूज।।

छत्तीसगढ़ सरकार की उच्च प्राथमिकता वाले कार्यक्रम स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल की प्रगति की राज्य स्तरीय समीक्षा आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला द्वारा ली गई। बैठक में विभाग के सचिव व कमिश्नर डॉ. कमलप्रीत सिंह, संयुक्त सचिव व एससीईआरटी संचालक श्री राजेश सिंह राणा उपस्थित थे। आज सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को यह निर्देश दिए गए कि सभी शिक्षकीय व गैर शिक्षकीय रिक्त पदों को तत्काल भरा जाए। स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल में निर्माणाधीन भवन को 15 दिसंबर 2021 तक पूर्ण कराया जाए। साथ ही इस सत्र से प्रारंभ होने वाले हिंदी माध्यम के उत्कृष्ट विद्यालय की जानकारी तत्काल भिजवाएं। 


प्रमुख सचिव डॉ. शुक्ला ने कहां यदि कोई भी कठिनाई हो तो प्रमुख सचिव, सचिव एवं कलेक्टर से सीधे चर्चा करें। स्कूल शिक्षा विभाग के उच्च प्राथमिकता के कार्यों की प्रतिदिन मॉनिटरिंग होगी और जिलों को ग्रेडिंग दी जाएगी। प्रमुख सचिव ने इस बात पर जोर दिया कि जिला शिक्षा अधिकारियों की कार्य क्षमता स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मीडियम स्कूल से आंकी जा रही है। उन्होंने कहा कि विभाग द्वारा निर्मित सॉफ्टवेयर का उपयोग सुनिश्चित किया जाए। सचिव डॉ. कमलप्रीत सिंह ने जिला शिक्षा अधिकारियों को यह निर्देश दिए कि प्रशासनिक व अकादमिक मॉनिटरिंग दोनों में समान रुप से ध्यान दिया जाए। सॉफ्टवेयर में नियमित एंट्री की जाए। प्रतिनियुक्ति आदेश एक-दो दिन में जारी किए जाएंगे रेमेडियल योजना व रेगुलर एक्टिविटी प्रारंभ किया जाए। सचिव डॉ कमलप्रीत सिंह ने धीमी गति से कार्य करने वाले कोरबा, गौरेला पेंड्रा मरवाही जिले सहित कुछ जिलों के कलेक्टर से दूरभाष पर चर्चा कर कार्यवाही करने का निर्देश भी दिए। एससीईआरटी संचालक श्री राजेश सिंह राणा ने सेतु पाठ्यक्रम, अकादमिक मॉनिटरिंग के संबंध से आगामी कार्य योजना से अवगत कराया। बैठक में अतिरिक्त संचालक डॉ योगेश शिवहरे, संयुक्त संचालक श्री आशुतोष चावरे, उप संचालक श्री उमेश कुमार साहू, श्री प्रशांत कुमार पांडे, श्री ललित कुमार साहू सहित 29 जिलों के जिला शिक्षा अधिकारी व उनके प्रतिनिधि उपस्थित थे।