सीपीएस शासकीय सेवकों के लिए नवा रायपुर में दो दिवसीय कार्यशाला

 

*एन्युटी लिटरेसी प्रोग्राम और नवीन पेंशन योजना में सेवानिवृत्ति पश्चात मिलने वाले हित लाभ पर केन्द्रित है आयोजन


रायपुर ।

असल बात न्यूज़।।

  पेंशन निधि विनियामक और विकास प्राधिकरण  एवं संचालनालय, कोष लेखा एवं पेंशन के संयुक्त तत्वाधान में 25 और 26 नवम्बर को राज्य शासन एवं स्वशासी संस्थाओं के अभिदाताओं को वार्षिकी क्रय किये जाने के संबंध में जागरूक करने हेतु छत्तीसगढ़ संवाद नवा रायपुर स्थित आडिटोरियम में Annuity Literacy Programme विषय पर दो दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया है।

 कार्यशाला के प्रथम दिवस का उद्घाटन संचालक, कोष लेखा एवं पेंशन श्री नीलकंठ टीकाम एवं कार्यकारी निदेशक (पीएफआरडीए) सुश्री ममता रोहित, द्वारा दीप प्रज्जवलन कर किया गया। अपने उद्बोधन में श्री टीकाम द्वारा नवीन पेंशन योजना के अंतर्गत सेवानिवृत्ति पश्चात् दिये जाने वाले हित लाभ की प्रक्रिया को सरल एवं व्यवस्थित करने के संबंध में अपने विचार व्यक्त किये। इसी प्रकार सुश्री ममता रोहित द्वारा अभिदाताओं को वांछित हित लाभ समय पर दिया जाना सुनिश्चित करने हेतु प्रक्रिया के संबंध में उनकी जागरूकता पर बल दिया गया। तत्पश्चात कार्यशाला में उपस्थित एसबीआई, एलआईसी, आईसीआईसीआई, एचडीएफसी, कोटक महिंद्रा  आदि के प्रतिनिधियों द्वारा वार्षिकी क्रय करने संबंधित विभिन्न योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी गई एवं प्रतिभागियों द्वारा पूछे गये़े प्रश्नों के उत्तर देते हुए उनकी शंकाओ का समाधान भी किया गया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप से श्री के. मोहन गांधी सीजीएम, पीएफआरडीए, सुश्री गुरमिन्दर कौर जीएम पीएफआरडीए, श्री तिलक कुमार शोरी, वित्त नियंत्रक, श्री के.एल. रवि, अपर संचालक, श्रीमती किरण जे. नागेश, संयुक्त संचालक, श्री सुनील सेैमुएल वीपी एनएसडीएल, श्री रमेश कुमार मैनेजर पीएफआरडीए उपस्थित थे। श्री के.एल.रवि, अपर संचालक द्वारा आभार व्यक्त किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्री कमल वर्मा, नोडल अधिकारी एवं सिस्टम एनालिस्ट, संचालनालय कोष लेखा एवं पेंशन द्वारा किया गया।