तरीघाट में 18 नवंबर को यादव शौर्य दिवस मनाया गया


पाटन - दुर्ग ।

असल बात न्यूज।

 जिले के अंतिम सीमा में बसे पुरातात्विक ग्राम तरीघाट में यादव समाज द्वारा 18 नवंबर को यादव शौर्य दिवस के रुप में मनाया गया। अखिल भारत वर्षीय युवा यादव महासभा दुर्ग छत्तीसगढ़ के आह्वान पर यह शौर्य दिवस मनाया जाता है। 18 नवंबर 1962 भारत चीन युद्ध के दौरान लेह लद्दाख के रेजांगला चौकी में भारत के 13 कुमायु रेजीमेंट के चार्ली कंपनी के 114 वीर अहीर यादव शहीद हो गए, उन्ही अहीर यादव सैनिकों की शौर्य पराक्रम को जन जन तक पहुंचाने व वीर सैनिकों के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने अखिल भारत वर्षीय यादव महासभा द्वारा 18 नवंबर को *यादव शौर्य दिवस* के रूप में मनाया जाता है l 

         इस वर्ष स्थानीय यादव समाज तरीघाट द्वारा 18 नवंबर को रेजांगला में शहीद यादव वीरों को याद करते हुए, दीप जलाकर, श्रद्धा सुमन अर्पित कर, नमन कर, श्रद्धांजलि अर्पित कर *यादव शौर्य दिवस* मनाया गया l

      कार्यक्रम प्रभारी  जीवन यादव ने इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस कार्यक्रम में  महिला, पुरुष एवं बच्चे बड़ी संख्या में शामिल हुए। जिसमे मुख्य रूप से सर्वश्री संतुराम यादव- उपाध्यक्ष रानीतराई सर्किल कोसरिया यादव समाज, स्थानीय यादव समाज अध्यक्ष श्री घनश्याम यादव, उपाध्यक्ष श्री महेश यादव, नीलकंठ यादव, यादव युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्री मुरारी यादव, कोषाध्यक्ष श्री धनेश यादव, यादव महिला प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्रीमती पार्वती यादव, उपाध्यक्ष श्रीमती कांति यादव, सचिव श्रीमती चितरेखा यादव, कोषाध्यक्ष श्रीमती ललिता यादव, श्रीमती कचरा यादव, श्रीमती कमलेश्वरी यादव, कु वर्षा, कु. ललिता, कु. दिव्या, कु. कुसुम, तरंग, संदीप, सन्नी आदि उपस्थित थे l