8 फुट से अधिक ऊंचाई तक छलांग लगाने वाली लोमड़ी थी इसलिए जंगल सफारी से कूद कर भाग गई थी

 रायपुर।

 असल बात न्यूज़।।

छत्तीसगढ़ राज्य का वन विभाग जंगल सफारी में जानवरों, पशुओं को सुरक्षित ऊंचाई के घेरे में रखने के लिए घेरे की ऊंचाई  के संबंध में नए सिरे से  मार्गदर्शन मांगा जा  रहा है। यहां जंगल सफारी में गाइड लाइन के अनुसार जानवरों को अधिकतम 8 फुट की ऊंचाई वाले घेरे में रखा गया है। लेकिन पिछले दिनों जंगल सफारी से इसी ऊंचाई के घेरे में रखे गए 2 लोमडयों के भाग जाने की घटना हुई थी जिसके बाद जंगल सफारी प्रशासन की चिंता बढ़ गई है और घेरे की ऊंचाई को बढ़ाने पर विचार-विमर्श चल रहा है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जंगल सफारी से दोनों लोमदियों के घेरे से छलांग लगाकर, भाग जाने की घटना हुई थी।इस घटना के बाद जंगल सफारी की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर तरह-तरह के सवाल उठ रहे थे। 2 दिन की मशक्कत के बाद उन रो लोमदियो को पकड़ने में सफलता प्राप्त हो सकी। विभाग का मानना है कि यह लोमड़ी 8 फीट से अधिक ऊंचाई के घेरे को छलांग लगाकर पार करने में सक्षम है इसी वजह से वह इतनी ऊंचाई के घेरे को कूदकर पार कर गए।

ऐसे में विभाग जंगल सफारी के घेरे की ऊंचाई को और ऊंचा करने की योजना बना रहा है। लेकिन इस पर नीतिगत निर्णय प्रदेश स्तर पर नहीं हो सकता।

विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने हमसे बातचीत करते हुए बताया है कि घेरे की ऊंचाई को बढ़ाने के संबंध में मार्गदर्शन मांगा जा रहा है। इस पर राय मिल जाने के बाद ही आगे कोई निर्णय लिया जाएगा। यह उल्लेखनीय है कि जंगली लोमड़ी भड़क कर खतरनाक हो जाती है तब यह लोगों पर हमला करने तक से नहीं चूकती। ऐसे में जंगल सफारी से लोमड़ी के भाग जाने से आसपास के लोगों में दहशत भी पैदा हो गई थी।



..

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता

................................

...................................