गांधीवादी विचारधारा से युवाओं को जोड़ने की पहल की जाएगी: मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल

 

*नवा रायपुर में बनने वाले गांधी सेवा ग्राम के स्वरूप और संचालन के संबंध में विस्तृत विचार-विमर्श


   रायपुर ।

असल बात न्यूज।।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अध्यक्षता में आज यहां उनके निवास कार्यालय में नवा रायपुर में वर्धा की तर्ज पर बनने वाले गांधी सेवा ग्राम के स्वरूप और संचालन के संबंध में विस्तार से चर्चा की गई। मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि नयी पीढ़ी को गांधीवादी विचारधारा से परिचित कराने के लिए गांधी सेवा ग्राम से छत्तीसगढ़ के साथ-साथ देश भर के युवाओं को जोड़ने के लिए प्रयास होना चाहिए। उन्होंने गांधी सेवा ग्राम को विकसित करने के लिए कार्य योजना तैयार करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। इस मौके पर मंत्रिमंडल के सदस्य और श्री सचिन राव विशेष रूप से उपस्थित थे।

गांधी सेवा ग्राम के स्वरूप और संचालन के संबंध में चर्चा करते हुए मुख्यमंत्री श्री बघेल ने कहा कि ग्राम स्वराज की संकल्पना गांधी जी की वैचारिक क्रांति थी, ग्राम स्वराज को वर्तमान में किस प्रकार आर्थिक आजादी से जोड़े इस पर कार्य करना होगा। युवाओं को प्रशिक्षित करने के साथ ही रोजगारोन्मूलक गतिविधियों से संबद्ध करना होगा। उन्होंने कहा कि गांधी सेवा ग्राम गांधी जी की विचारधारा को सीखने के माध्यम बने यह हमारा प्रयास होना चाहिए। उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ में शुरू किए गए राजीव गांधी युवा मितान क्लब के सदस्यों को गांधी सेवा ग्राम से जोड़ा जाए। इसी प्रकार देश भर के युवाओं को गांधी सेवा ग्राम का भ्रमण कराया जाए। उन्होंने गांधी सेवा ग्राम को सस्टेनेबल बनाने की दिशा में प्रयास करने की बात कही। 

बैठक में गांधी सेवा ग्राम के स्वरूप पर भी चर्चा की गई। इस मौके पर श्री सचिन राव और मंत्रिमण्डल के सहयोगियों ने भी बहुमूल्य सुझाव दिए। उन्होंने कहा कि गांधी जी का सामूहिक श्रम पर जोर रहा है। सेवाग्राम में सामूहिक गतिविधि और कार्यों को विशेष रूप से प्राथमिकता दी जाए। सामूहिक गतिविधियों-युवाओं की समाज और देश निर्माण में भागीदारी, स्वच्छता, ग्राम सभा और रोजगारपरक शिक्षा पर मुख्य फोकस होना चाहिए। बैठक में छत्तीसगढ़ में विभिन्न विभागों द्वारा शिक्षा, स्वास्थ्य, स्वच्छता के क्षेत्र में किए गए नवाचारी प्रयासों की जानकारी दी गई। इनमें मुख्य रूप से मुख्यमंत्री स्वास्थ्य स्लम योजना, मुख्यमंत्री हाट-बाजार क्लिनिक योजना, श्री धनंवतरी जेनरिक मेडिकल स्टोर, मलेरिया मुक्त अभियान, दाई-दीदी क्लिनिक योजना के साथ ही मिशन मिलेट, लघु वनोपज का संग्रहण एवं प्रोसेसिंग, स्वामी आत्मानंद इंग्लिश मिडियम स्कूल, राजीव गांधी किसान न्याय योजना, वनाधिकार कानून का क्रियान्वयन, मुख्यमंत्री वृक्षारोपण योजना, गोधन न्याय योजना, राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन कृषि मजदूर न्याय योजना आदि शामिल हैं। 

इस मौके पर कृषि मंत्री श्री रविन्द्र चौबे, वन मंत्री श्री मोहम्मद अकबर, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया, रायपुर नगर निगम के महापौर श्री एज़ाज़ ढेबर, विधायक श्री देवेंद्र यादव और कुलदीप जुनेजा, अन्य जनप्रतिनिधिगण, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव श्री सुब्रत साहू, विशेष सचिव कृषि डॉ एस. भारतीदासन, कलेक्टर रायपुर श्री सौरभ कुमार, नगर निगम रायपुर के आयुक्त श्री प्रभात मलिक सहित वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे।