बालको क्षेत्र की निगेहबान 268 आँखें, कानून व्यवस्था की हर गतिविधि पर निगरानी

 

कोरबा । असल बात न्यूज़।

यहां नगर में तीसरी आंख  अपराधों को अंजाम देने और फिर  भागने की कोशिश करने वाले अपराधियों पर पूरी नजर रख रही है। तीसरी आंख की मदद से यहां सुरक्षा दस्ता को दबाने की कोशिश की जा रही है इसके लिए यहां 268 तीसरी आंख याने की कैमरा लगाए गए हैं।

  लगातार बढ़ते जा रहे अपराधों के मद्देनजर  थानाक्षेत्र की सुरक्षा और अपराधिक गतिविधियों की रोकथाम और आने व जाने वाले संदिग्ध लोगों  पर निगाह रखना पुलिस प्रशासन के लिए अब ज्यादा जरूरी हो चला है। तरह-तरह के अपराधों को अंजाम देने के लिए नगर में प्रवेश और अपराध कर भागने के लिए नगर के ही बाहरी रास्ते का उपयोग अपराधी करते हैं। तीसरी आंख इन पर बखूबी नजर रख सकती है। बालको थाना क्षेत्र को भी इस 268 नग तीसरी आंख की जद में इस कदर रखा गया है कि सुरक्षा पुख्ता नजर आती है। बालको में देश का अव्वल एल्यूमिनियम उत्पादक संयंत्र स्थित है। संयंत्र में न सिर्फ कोरबा बल्कि दूसरे जिले व प्रांतों के लोग काम में नियोजित है।

 लोगों का निरंतर आवागमन होता रहता है साथ ही यहां आवासीय कालोनियां भी स्थित हैं। बालको से होकर आउटर के ग्रामीण क्षेत्रों व पिकनिक स्थलों सतरेंगापरसाखोलाकाफी पाइंटदेवपहरी आदि स्थानों के लिए आना-जाना करते हैं। सुरक्षा के लिहाज से बालको वेदांता कंपनी का अपना अलग सिस्टम है किंतु पुलिस प्रशासन भी आमजन की सुरक्षा के लिए मुस्तैद है।

पुलिस प्रशासन ने अपने प्रयासों से बालको थाना परिसर की सूरत बदलकर केवल आकर्षक स्वरूप ही नहीं दिया इसके साथ ही सुरक्षा व्यवस्था को भी पुख्ता किया है। बस स्टैण्ड में सुविधायुक्त पुलिस सहायता केन्द्र बड़ी उपलब्धि है। यह ऐसा केन्द्र है जहां बैठकर बालको के प्रवेश से लेकर निकास मार्ग और गलियों से लेकर चौक-चौराहों की निगरानी होती है। थाना प्रभारी श्री राकेश मिश्रा ने बताया कि कुल 268 सीसीटीवी कैमरे विभिन्न स्थानों पर प्रबंधन व जनसहयोग से पुलिस ने पूरे थाना क्षेत्र में लगवाए हैं। निरूसंदेह यह जिले का एकमात्र थाना है जो अत्याधुनिक कंट्रोल रूम से अपने पूरे क्षेत्र की निगरानी करता है। बजरंग चौकरूमगरा मार्गकाली मंदिर दोंदरो मार्गकोरबा-बालको मार्गकाफी पाइंट रोडसंजय नगरप्रत्येक सेक्टर एवं वित्तीय संस्थानोंबस स्टैण्ड चौक पर घूमने वाला कैमरा लगा है जो चारों तरफ नजर रखता है। सीसीटीवी कैमरा लगवाने में ग्रामीणजनों ने भी अपना सहयोग दिया है। सतरेंगा और काफी पाइंट मार्ग में पर्यटकों से लूटपाट व मारपीट की घटनाएं हो चुकी है जिसके मद्देनजर यहां भी कैमरे लगे है। सहयोग के लिए सतरेंगा निवासी श्री खान को पुरस्कृत भी किया जा चुका है। प्रधान आरक्षक कुलदीप तिवारी अत्याधुनिक कंट्रोल रूम के प्रभारी है। डॉयल 112 की टीम का भी यह हाल्टिंग पाइंट है जहां से सूचना मिलते ही जवान रवाना होते है।

चेकपोस्ट में सहायता केन्द्र जल्द - बालको थाना प्रभारी ने बताया कि उनके द्वारा हाल ही में 4 नए कैमरे और लगवाए गए हैं जिन्हें मिलाकर कंट्रोल रूम से ही कुल 22 सीसीटीवी कैमरों से निगरानी की जा रही है। सुरक्षा व्यवस्था को और पुख्ता करने के लिए उन्होंने चेकपोस्ट में एक पुलिस सहायता केन्द्र प्रारंभ करने की जरूरत बताई जिस पर बालको के एचआर हेड व अन्य अधिकारियों ने स्थल का चयन किया। यहां जल्द ही सहायता केन्द्र हेतु भवन निर्माण का कार्य प्रारंभ हो जाएगा। बालको से लालघाटचेकपोस्ट के मध्य बड़ी स्लम आबादी है और कई तरह की अवैधानिक गतिविधियां समय-समय पर सामने आती हैं।